CLI और GUI में क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between CLI and GUI in Hindi में जानेंगे की CLI और GUI में क्या अंतर होता है?

CLI और GUI में क्या अंतर है?CLI और GUI में क्या अंतर है?

कंप्यूटर में User Interface यह निर्दिष्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है कि यूजर किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस, विशेषकर कंप्यूटर के साथ कैसे Interacts करता है। कंप्यूटर सिस्टम में दो प्रकार के इंटरफ़ेस का उपयोग होता है CLI और GUI.

अगर CLI और GUI के बीच के मुख्य अंतर की बात करे तो यह है की CLI कंप्यूटर पर  काम करने के लिए यूजर को सिर्फ कमांड लाइन इंटरफ़ेस प्रदान करता है जबकि GUI यूजर को कंप्यूटर पर काम करने के लिए ग्राफिकल इंटरफ़ेस प्रदान करता है जिसमे इमेज और आइकॉन भी शामिल होते है इससे Users को GUI पर काम करने में काफी आसानी और सुविधा मिलती है।

इसके आलावा भी कमांड लाइन इंटरफ़ेस और ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस में काफी अंतर होते है जिनको डिफ्रेंस टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम CLI और GUI क्या होता है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is CLI in Hindi-कमांड लाइन इंटरफ़ेस किसे कहते है?

CLI कमांड लाइन इंटरफेस के लिए उपयोग किया जाने वाला संक्षिप्त नाम है और यह 1980 दशक में बड़े पैमाने पर उपयोग किए जाने वाला पारंपरिक इंटरफेस हैं।  एक कमांड-लाइन इंटरफ़ेस (CLI) उपयोगकर्ताओं को एक ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ कम्युनिकेशन करने के लिए टर्मिनल या कंसोल विंडो में कमांड लिखने की अनुमति देता है।

कमांड लाइन इंटरफेस एक ऐसा माध्यम है जहां उपयोगकर्ता कमांड लिखकर विजुअल प्रॉम्प्ट का जवाब देते हैं और सिस्टम से प्रतिक्रिया प्राप्त करते हैं। कंप्यूटर पर किसी कार्य को करने के लिए उपयोगकर्ताओं को कमांड या ट्रेन ऑफ़ कमांड टाइप करना पड़ता है।

CLI इंटरफ़ेस GUI की तुलना में अधिक सटीक हैं लेकिन CLI केवल उन उपयोगकर्ता के लिए उपयुक्त है जो इसे नियमित रूप से उपयोग करता है और उनकी कमांड और सिंटैक्स पर काफी अच्छी पकड़ होती हैं ।

आज के समय में अधिकांश वर्तमान यूनिक्स-आधारित सिस्टम एक कमांड लाइन इंटरफेस और एक ग्राफिकल यूजर इंटरफेस दोनों प्रदान करते हैं। MS-DOS ऑपरेटिंग सिस्टम और विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम में command shell कमांड लाइन इंटरफेस के उदाहरण हैं। इसके अलावा, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी कमांड लाइन इंटरफेस को सपोर्ट करती हैं, जैसे कि पायथन।

What is GUI in Hindi-ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस किसे कहते है?

GUI एक ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस होता हो यह एक प्रकार का यूजर इंटरफ़ेस है जिस पर काम करने के लिए यूजर को आइकन,विसुअल या ग्राफिक्स पर क्लिक करके अपने कंप्यूटर के साथ कम्युनिकेशन करने में सक्षम बनाता है। यह आमतौर पर मोबाइल उपकरणों, पीसी और टैबलेट में उपयोग किए जाने वाले  यूजर इंटरफ़ेस का सबसे सामान्य रूप है।

कमांड लाइन इंटरफेस की अपेक्षा ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस को इस्तेमाल करना काफी आसान है क्योकि इसमें CLI की तरह आपको किसी कमांड को याद करने की आवश्यकता नहीं है GUI पर सारे काम बस कंप्यूटर में दिए गए आइकन,विसुअल या ग्राफिक्स पर क्लिक करने से होते है।  GUI में इनफार्मेशन को किसी भी रूप में उपयोगकर्ता को दिखाया या प्रस्तुत किया जाता है जैसे:टेक्स्ट , वीडियो, चित्र आदि

कुछ लोकप्रिय, आधुनिक ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI) के उदाहरणों में Microsoft Windows, macOS, Ubuntu Unity, Android, Apple’s iOS और स्मार्टफोन्स के लिए फ़ायरफ़ॉक्स Firefox OS हैं।

कमांड लाइन इंटरफ़ेस और ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की CLI और GUI किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको CLI और GUI के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी CLI और GUI क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO CLI GUI
1. CLI का फुलफॉर्म Command Line Interface होता है। GUI का फुलफॉर्म Graphical User Interface होता है।
2. यह कंप्यूटर की बहुत ही कम मेमोरी को consume करता हैं। While consumes more memory.
3. CLI का इस्तेमाल करना बहुत ही कठिन है। GUI का इस्तेमाल करना काफी आसान है।
4. CLI में सारे काम कमांड से होते है इसलिए यह GUI से फ़ास्ट होता है। GUI की स्पीड CLI से स्लो होती है।
5. CLI ऑपरेटिंग सिस्टम को केवल कीबोर्ड की आवश्यकता होती है. जबकि GUI ऑपरेटिंग सिस्टम को माउस और कीबोर्ड दोनों की आवश्यकता होती है।
6. CLI की Appearance को संशोधित या परिवर्तित नहीं किया जा सकता है। जबकि इसके Appearance को संशोधित या बदला जा सकता है।
7. CLI में, इनपुट केवल कमांड प्रॉम्प्ट में दर्ज किया जाता है। GUI में रहते हुए  इनपुट को स्क्रीन पर कहीं से भी दिया जा सकता है।
8. CLI में उपयोगकर्ता को Text फ़ाइलों में जानकारी दिखाई या प्रस्तुत की जाती है। GUI में, जानकारी को किसी भी रूप में उपयोगकर्ता को दिखाया या प्रस्तुत किया जाता है जैसे: टेक्स्ट , वीडियो, चित्र, आदि।
9. CLI में कोई मेनू प्रदान नहीं किया गया है। GUI में Menu प्रदान की गयी है।
10. CLI में कोई ग्राफिक्स नहीं हैं। GUI में, ग्राफिक्स का उपयोग किया जाता है।
11. CLI किसी भी तरह की पॉइंटिंग डिवाइस का उपयोग नहीं करता हैं। जबकि यह आइटमों के चयन  के लिए पॉइंटिंग डिवाइस का उपयोग करता है।
12. CLI में स्पेलिंग और टाइपिंग की त्रुटियों से बचा नहीं जाता है। जबकि GUI में स्पेलिंग की गलतियों और टाइपिंग की त्रुटियों से बचा जाता है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between CLI and GUI in Hindi की CLI और GUI में क्या अंतर होता है इसके साथ ही हमने CLI और GUI किसे कहते है इसको भी अच्छे से समझा।

CLI और GUI दोनों के अपने-अपने फायदे और नुकसान हैं और दोनों का इस्तेमाल उपयोगकर्ता की आवश्यकता के अनुसार किया जाता हैं। ग्राफिक यूजर इंटरफेस का इस्तेमाल करना काफी सरल है और साथ ही मल्टीटास्किंग भी प्रदान करता है  इसके विपरीत कमांड लाइन इंटरफेस को इस्तेमाल करना कठिन है और इस पर एक समय में केवल एक ही काम कर सकते है।

Related Differences:

Hard link और Soft link में क्या अंतर है?

Linux और Windows Operating System में क्या अंतर है?

Process और Thread में क्या अंतर है?

EPROM और EEPROM में क्या अंतर है?

Register और Memory में क्या अंतर है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here