DLP और LCD Projector में क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे DLP और LCD Projector  किसे कहते है और Difference Between DLP and LCD Projector in Hindi की DLP और LCD Projector  में क्या अंतर है?

DLP और LCD Projector में क्या अंतर है?

एक प्रोजेक्टर एक आउटपुट डिवाइस है जो कंप्यूटर,लैपटॉप या DVD प्लेयर की स्क्रीन को एक बड़ी सतह पर प्रोजेक्ट करता है पोजेक्टर को एक मॉनिटर या टेलीविजन के विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। कुछ प्रोजेक्टर वाई-फाई और ब्लूटूथ का भी समर्थन करते हैं।

DLP और LCD एक बड़ी एलसीडी स्क्रीन या दीवार पर कंप्यूटर स्क्रीन को प्रदर्शित करने के लिए उपयोग की जाने वाली DVP (Digital Video Projection) तकनीक के प्रकार हैं। अगर डीएलपी और एलसीडी प्रोजेक्टर के बीच मुख्य अंतर की बात की जाये तो यह है कि DLP प्रोजेक्टर एक परावर्तक(reflective)  तकनीक के रूप में काम करता है, जबकि एलसीडी एक Transmissive विधि है।

इसके आलावा भी DLP और LCD प्रोजेक्टर में कुछ महत्वपूर्ण अंतर है जिनको हम डिफरेंस टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम प्रोजेक्टर क्या होता है और DLP और LCD प्रोजेक्टर क्या होते है  इन सब को और अच्छे से जान लेते है।

What is a Projector in Hindi-प्रोजेक्टर क्या होता है?

एक प्रोजेक्टर एक आउटपुट डिवाइस है जो कंप्यूटर लैपटॉप यह या ब्लू-रे प्लेयर द्वारा उत्पन्न वीडियो और इमेज को एक बड़ी स्क्रीन पर प्रोजेक्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए आप ऑफिस में एक बड़ी स्क्रीन पर अपने प्रोजेक्ट य Assignment दिखाने के लिए प्रोजेक्टर का उपयोग कर सकते हैं ताकि कमरे में हर कोई इसे देख सके।

What is DLP Projector in Hindi-DLP प्रोजेक्टर किसे  कहते है?

DLP  प्रोजेक्टर एक color wheel और चिप के साथ एक light source का उपयोग करते हैं जिसमें microscopic tilting mirrors होते हैं। लाइट कलर व्हील के माध्यम से गुजरता है और मिरर को रिफ्लेक्ट करता है और फिर एक स्क्रीन पर उसको प्रोजेक्ट करता है।DLP प्रोजेक्टर DMD चिप में उपयोग किए जाने वाले डिजिटल लाइट स्विच द्वारा बनाया गया है, जो आकार में छोटे होते हैं।

DLP या डिजिटल लाइट प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी सबसे पहले 1987 में सामने आई थी । जिसे Texas Instruments के Larry Hornbeck द्वारा विकसित किया गया था।

What is LCD Projector in Hindi-LCD प्रोजेक्टर किसे कहते है?

एलसीडी प्रोजेक्टर एक प्रकार का प्रोजेक्टर है जो लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले पर आधारित होता है जो इमेज,डेटा या वीडियो  को प्रदर्शित कर सकता है। एक एलसीडी प्रोजेक्टर ट्रांससमिसिव तकनीक पर काम करता है। एलसीडी प्रोजेक्टर अपनी कलर क्वालिटी के लिए काफी पॉपुलर है। वे आमतौर पर ऑफिस में मीटिंग और सेमिनारों में उपयोग किए जाते हैं।

LCD प्रोजेक्टर इमेज को बनाने और उसे प्रोजेक्ट करने के लिए लाइट सोर्स का उपयोग करते है। इसमें लाइट 3 LCD Chips  के माध्यम से गुजर कर इमेज को बनाते है। LCD इन प्रोजेक्टरों को बहुत छोटे लिक्विड-क्रिस्टल पैनलों का उपयोग करके बनाया गया है, जहां प्रतिबिंब के बजाय प्रकाश का पारगमन होता है। यह हर रंग के लिए तीन पैनलों का उपयोग करता है। हालांकि, एक चौथे पैनल का उपयोग रंग की जनरेशन में सुधार के लिए किया जाता है।

What is LED projector in Hindi-LED प्रोजेक्टर किसे कहते है?

LED projector एक ऐसा प्रोजेक्टर है जो फ्लैट स्क्रीन पर वीडियो सामग्री को प्रोजेक्ट करने के लिए light-emitting diodes का उपयोग करता है। यह उपयोगकर्ताओं को बहुत ही अच्छी कलर क्वालिटी की की गारंटी देता है।  इसके अलावा, यह प्रोजेक्टिंग सामग्री के लिए पुराने हलोजन लैंप के उपयोग को समाप्त करता है।

LED प्रोजेक्टर बेहतर कलर प्रदान करने के साथ की बहुत ही कम बिजली की खपत करता है और इसकी मेंटनेंस की लागत भी बहुत कम है। इसके अलावा, एलईडी प्रोजेक्टर छोटे होते हैं और कम गर्मी पैदा करते हैं।

लेकिन इसको खरीदते समय एक बात ध्यान रखें कि LED प्रोजेक्टर में एलसीडी या डीएलपी की तुलना में  बहुत ही सीमित ब्राइटनेस होती है, इसलिए यदि आपके कमरे में बहुत अधिक प्रकाश है तो यह आपके लिए रेकमेंडेड नहीं है ।

DLP or LCD or LED में से कौन सा प्रोजेक्टर सबसे अच्छा है?

DLP प्रोजेक्टर स्क्रीन पर रंग के संक्षिप्त चमक के साथ rainbow effect को उत्पन्न कर सकते हैं और LCD प्रोजेक्टर LED प्रोजेक्टरों की तुलना में अधिक बिजली की खपत करता है। DLP प्रोजेक्टर का उपयोग बहुत ही कम होता है क्योकि इससे अच्छे LCD प्रोजेक्टर LED प्रोजेक्टर मार्किट में उपलब्ध है।

नीचे कुछ चीजे के बारे में बतया गया है जिनके द्वारा आपको LCD और LED प्रोजेक्टर में किसी एक को चुनने में आपको सहायता मिलेगी।

LCD Projectors:

  • Brighter and sharper images
  • Bulky with no moving parts
  • Requires constant maintenance and filter replacements
  • Lasts 2,000 hours on average
  • Cheaper

LED Projectors:

  • Lasts 20,000 hours
  • More colorful images
  • Requires little to no maintenance
  • Smaller with tighter parts
  • Energy efficient and environmentally friendly
  • Pricey

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना की DLP, LCD और LED  Projector किसे कहते है और Difference Between DLP and LCD Projector in Hindi की DLP और LCD Projector  में क्या अंतर है?

Related Differences:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here