EMF और Voltage के बीच क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे EMF और Voltage किसे कहते है और Difference Between EMF and Voltage in Hindi की EMF और Voltage  में क्या अंतर है?

EMF और Voltage के बीच क्या अंतर हैं?

EMF (electromotive force) एक स्रोत के सिरों पर वोल्टेज होता है जब कोई करंट मौजूद नहीं होता है। जब सर्किट बंद हो जाता है और करंट प्रवाहित होता है तो स्रोत के सिरों पर एक वोल्टेज होता है जो EMF से छोटा होता है। यह स्वयं स्रोत के आंतरिक प्रतिरोध का परिणाम है जो इस वोल्टेज ड्रॉप की ओर जाता है।

EMF और के बीच एक प्रमुख अंतरवोल्टेज वह है जो EMF आवेश को आपूर्ति की जाने वाली ऊर्जा है, जबकि वोल्टेज वह ऊर्जा है जिसे इकाई आवेश को एक बिंदु से दूसरे बिंदु पर ले जाने की आवश्यकता होती है।

EMF और Voltage में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम Difference टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम EMF और Voltage किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is EMF in Hindi-EMF क्या होता है?

EMF जो  electromotive force का एक संक्षिप्त  नाम है यह एक वोल्टेज है जो बैटरी जैसे ऊर्जा स्रोत द्वारा प्रदान किया जाता है। फैराडे के नियम के अनुसार, चुंबकीय क्षेत्र में भिन्नता EMF उत्पन्न कर सकती है। यद्यपि EMF भी एक वोल्टेज है और वोल्ट (V) में मापा जाता है, यह सभी वोल्टेज पीढ़ी के बारे में है।

इलेक्ट्रॉनिक सर्किट के लिए सर्किट के माध्यम से धाराओं को चलाने के लिए EMF आवश्यक है। जब EMF का उपयोग करके एक विद्युत सर्किट चलाया जाता है, तो उस सर्किट में वोल्टेज की मात्रा किर्चॉफ के दूसरे नियम के अनुसार EMF के बराबर होती है।

What is Voltage in Hindi-Voltage क्या होता है?

वोल्टेज विद्युत संभावित अंतर के लिए एक और शब्द है। बिंदु A और B के बीच संभावित अंतर को बिंदु A और बिंदु B के बीच वोल्टेज के रूप में भी जाना जाता है। इसे इकाई चार्ज (+1 Coulomb) को B से A. वोल्टेज में स्थानांतरित करने के लिए किए जाने वाले राशि कार्य के रूप में भी परिभाषित किया जाता है।

इकाई वोल्ट (V)। वोल्टमीटर वह उपकरण है जिसका उपयोग वोल्टेज को मापने के लिए किया जाता है। एक बैटरी अपने दो सिरों (इलेक्ट्रोड) के बीच एक वोल्टेज प्रदान करती है और इसके सकारात्मक पक्ष की क्षमता अधिक होती है और नकारात्मक की कम क्षमता होती है।

एक सर्किट में, उच्च क्षमता से कम क्षमता तक प्रवाह होता है। जब यह एक रिसिस्टर से गुजरता है, तो दो सिरों के बीच का वोल्टेज देखा जा सकता है। इसे ‘वोल्टेज ड्रॉप’ कहा जाता है। हालांकि वोल्टेज हमेशा दो बिंदुओं के बारे में होता है, कभी-कभी लोग एक बिंदु के वोल्टेज के लिए पूछते हैं।

यह उस विशेष बिंदु और एक संदर्भ बिंदु के बीच वोल्टेज के बारे में है। यह संदर्भ बिंदु आमतौर पर ed ग्राउंडेड ’होता है और इसकी क्षमता 0 वी मानी जाती है।

Difference Between EMF and Voltage in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की EMF और Voltage किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको EMF और Voltage के बीच क्या अंतर है इसके बारे में अच्छे से पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी EMF और Voltage क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई कन्फ़्युशन है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

EMF Voltage
It denotes the voltage produced inside the electric source. It is the difference potential difference between two points
External forces work in moving a charge from one pole to another pole inside a source It is the work in moving a charge from one pole to another through a wire
E = I * (R + r) V = I * R
It follows the coulomb force operation It follows a non-coulomb force operation
It measured with EMF meter It is measured with a voltmeter
It is always greater than the voltage It is always lesser than EMF
Its intensity is constant Its intensity is not constant
EMF is caused in a gravitational, electric or magnetic field Voltage is caused only in the electric field

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना की EMF और Voltage किसे कहते है और Difference Between EMF and Voltage in Hindi की EMF और Voltage में क्या अंतर है।

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read