Extensive और Intensive Properties के बीच क्या अंतर हैं?

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे Extensive और Intensive Properties किसे कहते है और Difference Between Extensive और Intensive Properties in Hindi की Extensive और Intensive Properties  में क्या अंतर है?

Extensive और Intensive Properties के बीच क्या अंतर हैं?

दो अलग-अलग श्रेणियां Extensive और Intensive Properties जिनमें पदार्थ के भौतिक गुणों को वर्गीकृत किया जा सकता है। इन शर्तों को 1917 में रिचर्ड सी टॉलमैन द्वारा पेश किया गया था।

Extensive और Intensive Properties में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम Difference टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम Extensive और Intensive Properties किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is Extensive in Hindi-Extensive क्या होता है?

ऐसे सभी थर्मोडायनामिक गुण जो संबंधित प्रणाली के द्रव्यमान पर निर्भर करते हैं, व्यापक गुण (extensive properties) कहलाते हैं। यदि निकाय का द्रव्यमान बदलता है, तो एक extensive properties का मूल्य भी बदल जाएगा।

Extensive Properties के उदाहरण: Mass, Volume, Internal energy, Heat capacity, Enthalpy, Entropy, Gibbs energy, Helmholtz energy, etc.

What is Intensive Properties in Hindi-Intensive Properties क्या होता है?

ऐसे सभी थर्मोडायनामिक properties जो संबंधित प्रणाली के द्रव्यमान से स्वतंत्र होते हैं, intensive properties कहलाते हैं। एक intensive properties का मूल्य अपरिवर्तित रहेगा, भले ही सिस्टम का द्रव्यमान बदल जाए।

Examples of intensive property: Pressure, Temperature, Density, Concentration, Melting point, Boiling point, Surface tension, Viscosity, etc.

Difference Between Extensive and Intensive Properties in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की Extensive और Intensive Properties किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Extensive और Intensive Properties के बीच क्या अंतर है इसके बारे में अच्छे से पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी Extensive और Intensive Properties क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई कन्फ़्युशन है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

INTENSIVE EXTENSIVE
Independent property Dependent property
Size does not change Size changes
It cannot be computed It can be computed
Can be easily identified Cannot be easily identified
Example: melting point, colour, ductility, conductivity, pressure, boiling point, lustre, freezing point, odour, density, etc Example: length, mass, weight, volume

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना की Extensive और Intensive Properties किसे कहते है और Difference Between Extensive and Intensive Properties  in Hindi की Extensive और Intensive Properties में क्या अंतर है।

इनके बारे में भी जाने 

Rust और Corrosion के बीच क्या अंतर हैं?

Hard Water और Soft Water के बीच क्या अंतर हैं?

Glucose और Fructose के बीच क्या अंतर हैं?

CNG और LPG के बीच क्या अंतर हैं?

Vaporization और Evaporation के बीच क्या अंतर हैं?

Petrol और Diesel Engine के बीच क्या अंतर हैं?

Vapour और Gas के बीच क्या अंतर हैं?

Baking Soda और Baking Powder के बीच क्या अंतर हैं?

Molecule और Compound के बीच क्या अंतर हैं?

Atom और Molecule के बीच क्या अंतर हैं?

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read