Difference Between Server and Workstation in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between Server and Workstation in Hindi में जानेंगे की Server और Workstation के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between Server and Workstation in HindiDifference Between Server and Workstation in Hindi

सर्वर और वर्कस्टेशन दोनों ही कंप्यूटर डिवाइस है लेकिन दोनों के काम एक दूसरे से बिलकुल अलग होते है सर्वर और वर्कस्टेशन पूरी तरह से अलग-अलग तरह की सर्विस प्रदान करते हैं।

अगर सर्वर और वर्कस्टेशन  के बीच के मुख्य अंतर की बात की जाये तो  के एक सर्वरडेडिकेटेड हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर है जो क्लाइंट के द्वारा की गयी रिक्वेस्ट का जबाब देता है। दूसरी ओर, एक वर्कस्टेशन एक क्लाइंट-साइड कंप्यूटर होता है जिसके द्वारा एक यूजर सर्वर को रिक्वेस्ट सेंड करता है।

इसके आलावा भी सर्वर और वर्कस्टेशन में कुछ और महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम डिफरेंस टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम Server और Workstation किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

सर्वर किसे कहते है?

कंप्यूटिंग में, एक सर्वर कंप्यूटर हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर का एक टुकड़ा है जो अन्य प्रोग्राम या डिवाइस के लिए कार्यक्षमता प्रदान करता है, जिसे “क्लाइंट” कहा जाता है। इस आर्किटेक्चर को क्लाइंट – सर्वर मॉडल कहा जाता है।

कंप्यूटर नेटवर्किंग में, नेटवर्क रिसोर्स को संभालने और मैनेज करने के लिए एक डिवाइस का उपयोग किया जाता है जिसे सर्वर के रूप में जाना जाता है। जैसे की फ़ाइल सर्वर एक कंप्यूटर होता है जिसे फ़ाइलों को स्टोर करने के लिए किया जाता है।

डेडिकेटेड सर्वरों का उपयोग केवल उन कार्यों को करने के लिए किया जाता है जो पहले सर्वर के लिए परिभाषित किए गए हैं। एक सामान्य कंप्यूटर के विपरीत एक डेडिकेटेड सर्वर एक साथ कई कार्यक्रमों को निष्पादित नहीं कर सकता है।

सरल शब्दों में, हम एक सर्वर को एक कनेक्टेड नेटवर्क के रूप में परिभाषित कर सकते हैं जो एक साथ एक से अधिक क्लाइंट को डेटा प्रदान करता है। वर्ल्ड वाइड वेब क्लाइंट / सर्वर मॉडल को नियुक्त करता है जो दुनिया भर में वेबसाइटों तक पहुंचने के लिए कई उपयोगकर्ताओं को अनुमति देता है। विभिन्न प्रकार के सर्वर होते हैं जैसे की एप्लिकेशन सर्वर, वेब सर्वर, मेल सर्वर, प्रॉक्सी सर्वर, एफ़टीपी सर्वर, आदि।

उदाहरण के लिए, एक वेब सर्वर एक तरह का सर्वर है जिसका उपयोग HTTP प्रोटोकॉल की मदद से ग्राहकों के साथ कम्युनिकेशन को स्थापित करने के लिए किया जाता है।

वर्कस्टेशन किसे कहते हैं?

वर्कस्टेशन एक कंप्यूटर है जो किसी ऑफिस में Business और Professional  उपयोग के लिए इस्तेमाल किया जाता है। एक वर्कस्टेशन पर्सर्नल कम्यूटर की तुलना में तेज और अधिक सक्षम होता है। क्योकि इसमें एक अच्छी ग्राफिक्स क्षमता और स्टोरेज क्षमता के साथ एक शक्तिशाली माइक्रोप्रोसेसर होता है।

वर्कस्टेशन कंप्यूटरों का उपयोग उन क्षेत्रों में किया जाता है जिनके लिए व्यापक गणितीय क्षमताओं की आवश्यकता होती है, और अन्य  कंप्यूटरों की तुलना में अधिक मेमोरी की आवश्यकता होती है।

सर्वर और वर्कस्टेशन में क्या अंतर होता है ?

अभी तक ऊपर हमने जाना की सर्वर और वर्कस्टेशन किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको सर्वर और वर्कस्टेशन के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी सर्वर और वर्कस्टेशन क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO SERVER WORKSTATION
1. वह डिवाइस जो क्लाइंट की रिक्वेस्ट के लिए सेवाओं का जवाब देती है उसे सर्वर कहा जाता है। वर्कस्टेशन एक कंप्यूटर है जो मुख्य रूप से एक समय में एक व्यक्ति द्वारा उपयोग किया जाता है।
2. सर्वर में, संचालन इंटरनेट आधारित हैं। वर्कस्टेशन में संचालन व्यवसाय, इंजीनियरिंग आदि के रूप में होते हैं।
3. सर्वर के उदाहरण हैं: एफ़टीपी सर्वर, वेब सर्वर आदि। वर्कस्टेशन के उदाहरण हैं: वीडियो वर्कस्टेशन, ऑडियो वर्कस्टेशन आदि।
4. सर्वर में प्रयुक्त ऑपरेटिंग सिस्टम हैं: लिनक्स, सोलारिस सर्वर और विंडो। वर्कस्टेशन में प्रयुक्त ऑपरेटिंग सिस्टम हैं: यूनिक्स, लिनक्स या विंडोज एनटी।
5. सर्वर में, ग्राफिक्स यूजर इंटरफेस (GUI) वैकल्पिक है। वर्कस्टेशन में, ग्राफिक्स यूजर इंटरफेस (GUI)इंस्टाल होते है।
6. एक सर्वर वर्कस्टेशन नहीं हो सकता। जबकि वर्कस्टेशन एक सर्वर हो सकता है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between Server and Workstation in Hindi की Server और Workstation के बीच में क्या अंतर होता हैं साथ ही साथ सर्वर और वर्कस्टेशन किसे कहते है इसको भी हमने अच्छे से समझा।

एक सर्वर एक ही समय में कई कार्य करता है और एक साथ कई क्लाइंट के साथ कनेक्शन और कम्युनिकेशन करता है जबकि वर्कस्टेशन केवल एप्लिकेशन-विशिष्ट कार्य करता है और इसे स्टैंड-अलोन डिवाइस के रूप में भी उपयोग किया जा सकता है।

Related Difference 

Difference Between Steganography and Cryptography in Hindi

Difference Between Hub and Switch in Hindi

Difference Between Circuit switching and Message switching in Hindi

Difference Between IGRP and EIGRP in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here