SRAM और DRAM में क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between SRAM and DRAM in Hindi में जानेंगे की SRAM और DRAM में क्या अंतर है?

SRAM और DRAM में क्या अंतर हैSRAM और DRAM में क्या अंतर है?

आप कंप्यूटर RAM के बारे में तो सुना ही होगा इसके दो मुख्य प्रकार होते है SRAM और DRAM यह दोनों ही इंटीग्रेटेड-सर्किट रैम के मोड हैं और दोनों के बीच काफी अंतर होते है।

अगर SRAM और DRAM के मुख्य अंतर की बात की जाये तो SRAM निर्माण में ट्रांजिस्टर और लैच का उपयोग किया जाता है जबकि DRAM में कैपेसिटर और ट्रांजिस्टर का उपयोग होता है।

अगर दोनों के बीच स्पीड के अंतर की बात करें तो SRAM तुलनात्मक रूप से DRAM से अधिक तेज़ है इसलिए SRAM का उपयोग कैश मेमोरी के लिए किया जाता है जबकि DRAM का उपयोग मुख्य मेमोरी के लिए किया जाता है।

इसके आलावा भी SRAM और DRAM  में कुछ महत्वपूर्ण अंतर पाए जाते है जिनको हम Difference Table के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले SRAM और DRAM किसे कहते है इसको और अच्छे से जान लेते है।

What is SRAM in Hindi-स्टैटिक रैंडम एक्सेस मेमोरी किसे कहते हैं?

SRAM जिसका फुलफॉर्म Static Random Access Memory होता है इसमें डेटा को ट्रांजिस्टर में संग्रहीत किया जाता और इसको निरंतर बिजली प्रवाह की आवश्यकता होती है। SRAM को Static Memory इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसके डेटा में कोई परिवर्तन या क्रिया नहीं होती है।

SRAM एक प्रकार की semiconductor memory है जो प्रत्येक बिट को स्टोर करने के लिए बिस्टेबल लैचिंग सर्किटरी का उपयोग करती है। इस प्रकार की RAM में डेटा छह ट्रांजिस्टर मेमोरी सेल का उपयोग करके संग्रहीत किया जाता है।

SRAM अन्य RAM प्रकारों की तुलना में अपेक्षाकृत तेज है और यह बहुत ही कम पावर को consume करता। इसीलिए SRAM का उपयोग ज्यादातर प्रोसेसर (सीपीयू) के लिए Cache Memory  के रूप में किया जाता है।

What is DRAM in Hindi-डायनामिक रैंडम एक्सेस मेमोरी किसे कहते हैं?

DRAM का पूरा नाम डायनामिक रैंडम एक्सेस मेमोरी है इसमें डेटा कैपेसिटर में संग्रहीत किया जाता है। यह एक प्रकार की RAM है जो आपको एक विशेष इंटीग्रेटेड सर्किट के भीतर एक अलग कपैसिटर में प्रत्येक बिट डेटा को संग्रहीत करने की अनुमति देता है।

DRAM को डायनेमिक कहा जाता है क्योंकि लगातार बदलाव या एक्शन यानी डेटा को Intact बनाए रखने के लिए रिफ्रेशिंग की जरूरत होती है। इसका उपयोग मुख्य मेमोरी को लागू करने के लिए किया जाता है।  लैपटॉप और डेस्कटॉप में पाए जाने वाले मेमोरी मॉड्यूल DRAM का उपयोग करते हैं।

SRAM और DRAM में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की SRAM और DRAM  किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको SRAM और DRAM के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी SRAM और DRAM क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

SR.NO. SRAM DRAM
1. SRAM में इनफार्मेशन को संग्रहीत करने के लिए ट्रांजिस्टर का उपयोग किया जाता है। DRAM में इनफार्मेशन को संग्रहीत करने के लिए Capacitor का उपयोग किया जाता है।
2. इसमें कैपेसिटर का उपयोग नहीं किया जाता है इसलिए रिफ्रेश करने की आवश्यकता नहीं है। अधिक समय तक इनफार्मेशन को स्टोर करने के लिए Capacitor  के कंटेंट को समय-समय पर रिफ्रेश करने की आवश्यकता होती है।
3. DRAM की तुलना में SRAM काफी फ़ास्ट होती है। DRAM SRAM की तुलना में थोड़ा स्लो होती है।
4. SRAM महँगी होती है। DRAM थोड़ा सस्ती होती है।
5. SRAMs कम घनत्व (density) वाली डिवाइस हैं। DRAMs ज़्यादा घनत्व (density) वाली डिवाइस हैं।
6. SRAM का उपयोग Cache मेमोरी में किया जाता है। DRAM का इस्तेमाल मुख्य मेमोरी में किया जाता है।

Conclusion

आज की इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between SRAM and DRAM in Hindi की SRAM और DRAM में क्या अंतर है? इसके साथ ही SRAM और DRAM किसे कहते है इसको भी हमने अच्छे से समझा।

DRAM SRAM का वंशज है। SRAM की कुछ कमियों को कम करने के लिए DRAM विकशित किया गया  लेकिन फिर भी DRAM धीमा है और SRAM की तुलना में अधिक बिजली की खपत करता है।

Related Differences:

Stack और Heap में क्या अंतर है?

EPROM और EEPROM में क्या अंतर है?

PROM और EPROM में क्या अंतर है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here