SSD और HDD में क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between SSD and HDD in Hindi में जानेंगे की SSD और HDD में क्या अंतर है?

SSD और HDD में क्या अंतर हैआज से कुछ साल पहले जब हम अपने लिए कोई कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदते थे तो उस  समय हार्ड डिस्क के लिए हमारे पास ज्यादा ऑप्शन नहीं थे क्योकि सभी में ज़्यदातर HDD का ही इस्तेमाल किया जाता था लेकिन आज ऐसा नहीं है।

अब  जब आप एक नया पीसी खरीदते हैं तो आप दो अलग-अलग विकल्पों के साथ सामना करते हैं SSD और HDD और उस समय यह कई प्रशन हमारे मन में होते है की आखिर SSD और HDD  में सबसे अच्छा कौन है और दोनों में क्या अंतर है।

SSD और HDD दोनों ही कंप्यूटर में इस्तेमाल जाने वाली सेकेंडरी स्टोरेज डिवाइस हैं अगर तकनीकी रूप से देखा जाये तो दोनों  प्रकार की ड्राइव का इस्तेमाल डेटा को स्टोर करने के लिए किया जाता है।

भले ही दोनों का इस्तेमाल कंप्यूटर में डेटा को स्टोर करने के लिए किया जाता हो फिर भी SSD और HDD  एक दूसरे  से काफी अलग है और दोनों की अपनी-अपनी विशेषताएं हैं।

अगर SSD और HDD के बीच के मुख्य अंतर की बात करें तोएक हार्ड डिस्क ड्राइव (HDD) एक पुरानी स्टोरेज डिवाइस है जो डेटा तक पहुंचने के लिए मैकेनिकल प्लेटर्स और एक मूविंग रीड / राइट हेड का उपयोग करता है।

जबकि एक सॉलिड-स्टेट ड्राइव (SSD) एक नया और काफी तेज स्टोरेज डिवाइस है, जो instantly-accessible मेमोरी चिप्स पर डेटा स्टोर करता है।  SSD (सॉलिड स्टेट ड्राइव) में अर्धचालक के बने एक इलेक्ट्रॉनिक सर्किट्री होते हैं जबकि HDD (हार्ड डिस्क ड्राइव) में विद्युत घटक होते हैं।

इसके आलावा भी SSD और HDD में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको Difference Table के माध्यम से हम नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम SSD और HDD किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is an HDD in Hindi-हार्ड डिस्क ड्राइव किसे कहते है?

HDD जिसका फुलफॉर्म Hard Disk Drive है और इसका अविष्कार IBM ने 1956 में किया था और HDD एक पुरानी स्टोरेज तकनीक है। यह एक रीड / राइट इलेक्ट्रोमैकेनिकल डिवाइस है जो अपने पार्ट्स को मूव करके काम करता है और डेटा को मैग्नेटिक रोटेटिंग प्लैटर्स पर स्टोर करता है।

एक हार्ड ड्राइव हार्डवेयर कम्पोनेंट्स है और आमतौर एक हार्ड ड्राइव का इस्तेमाल कंप्यूटर में डेटा,ऑपरेटिंग सिस्टम, सॉफ्टवेयर को स्टोर करने के लिए किया जाता है। हार्ड ड्राइव Internal या External दो तरह से होती है।

Components of HDD

एचडीडी के मुख्य भाग प्लैटर और हेड हैं।  ये प्लैटर 5,400 से 7,200 रोटेशन प्रति मिनट की गति से घूम सकते हैं। हार्ड ड्राइव के अंदर, पटरियों पर स्थित सेक्टर हैं, जो रोटेटिंग प्लैटर्स पर संग्रहीत हैं। इन प्लैटर्स में चुंबकीय सिर होते हैं जो ड्राइव को डेटा read और write के लिए एक एक्चुएटर आर्म के साथ चलते हैं।

HDD में कई “हेड्स” (ट्रांसड्यूसर) होते हैं, जो डिस्क पर डेटा पढ़ते और लिखते हैं। यह ठीक वैसे ही काम करता है जैसे टर्नटेबल रिकॉर्ड प्लेयर काम करता है। हार्ड डिस्क ड्राइव एक Non-Volatile Storage डिवाइस है इसका मतलब यह है की पावर स्विच होने पर भी इसका डेटा बरकरार रखता है।

Advantages of HDD

  • Easily available.
  • Works well with the large files too.
  • Provides a larger storage at smaller amounts.

Disadvantages of HDD

  • Slower than SSD.
  • Produces heat and susceptible to shock and vibration.
  • Requires larger space.

What is an SSD in Hindi-सॉलिड डिस्क ड्राइव किसे कहते है?

SSD जिसका फुलफॉर्म Solid State Disk होता है, इसे सॉलिड स्टेट इसलिए भी कहा जाता है क्योकि इसमें कोई मूवमेंट करने वाला पार्ट इस्तेमाल नहीं किया जाता है।  SSD में सारे डेटा को एक सिंगल सर्किट में स्टोर किया जाता है।

SSD (सॉलिड स्टेट ड्राइव) के विचार को 1978 में पेश किया गया था और इसे semiconductors के साथ लागू किया गया था। यह बिजली की आपूर्ति नहीं होने पर भी  डेटा संग्रहीत करता है।

SSD की स्पीड HDD की तुलना में बहुत अधिक है क्योंकि यह उच्च IOPS पर डेटा फ़ंक्शन को Read / Write करता है। HDD के बिपरीत SSD में कोई भी बड़े पार्ट शामिल नहीं इसलिए यह काफी स्टोरेज डिवाइस होती है।

हलाकि प्रारंभ में NAND flash non-volatile memory  का उपयोग SSD में किया गया था, उसके बाद SSD में डेटा को स्टोर करने के लिए उच्च गति वाले DRAM का उपयोग किया गया था। SSD कंपन और उच्च तापमान में भी काम कर सकते हैं।

SSD स्टोरेज HDD की तुलना में अधिक महंगे हैं लेकिन स्पीड और विश्वसनीयता को देखा जाये तो SSD डिवाइस HDD की तुलना में काफी अच्छी और टिकाऊ होती हैं।

Components of SSD

SSD के मुख्य कम्पोनेंट्स कंट्रोलर और मेमोरी हैं। कंट्रोलर मुख्य प्रोसेसिंग इकाई का गठन करता है जो NAND मेमोरी एलिमेंट्स को होस्ट कंप्यूटर से जोड़ता है और फर्मवेयर स्तर कोड को निष्पादित करता है। यह SSD के परफॉरमेंस के एक बड़े हिस्से को कवर करता है। SSD का एक अन्य घटक मेमोरी है जो एकीकृत सर्किट का उपयोग करके डेटा को स्टोर करता है।

Advantages of SSD

  • It is very fast.
  • Does not produces vibrational noises and heat.
  • Shock resistant.
  • Consumes low power.

Disadvantages of SSD

  • The flash memory used in SSD become unusable after performing few writes.
  • Fragmentation issues.
  • Cost is high (memory per bit is high).
  • Large files can certainly degrade performance.

HDD और  SDD में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की HDD और  SDD किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपकोHDD और  SDD के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी HDD और  SDD क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

PARAMETER HDD SSD
Full Form HDD का फुलफॉर्म Hard Disk Drive होता है. SSD का फुलफॉर्म Solid State Drive होता है।
Components HDD में मैकेनिकल पार्ट में मूवमेंट होती हैं। SSD में यांत्रिक पार्ट नहीं होते हैं, केवल IC जैसे इलेक्ट्रॉनिक पार्ट होते हैं।
R/W Time HDD में R/W time काफी ज्यादा होता है। SSD में R / W समय कम है।
Latency HDD में उच्च विलंबता होती है। SSD में विलंबता कम होती है।
I/O operations per second एचडीडी प्रति सेकंड कम I / O संचालन का समर्थन करता है। SSD प्रति सेकंड अधिक I / O संचालन का समर्थन करता है।
Fragmentation HDD में फ्रेगमेंटेशन होता है। SSD में फ्रेगमेंटेशन नहीं होता है।
Weight HDD का वजन SDD की तुलना में काफी भारी होता है। SSD वजन में हल्का होता है।
Size HDD का साइज भी बड़ा होता है। SSD आकर में छोटी होती है।
Data Transfer HDD में डाटा ट्रांसफर अनुक्रमिक होता है। SSD में डेटा ट्रांसफर रैंडम एक्सेस होता है।
Reliability HDD यांत्रिक विफलता की संभावना के कारण कम विश्वसनीय है, जैसे सिर दुर्घटना SSD अधिक विश्वसनीय है।
Cost HDD थोड़ा सस्ती पड़ती है। SSD स्टोरेज डिवाइस थोड़ा महंगी होती है।
Time of Release HDD एक पुरानी और अधिक पारंपरिक स्टोरेज डिवाइस है। SSD अभी एक नई स्टोरेज डिवाइस है।
Noise HDD में यांत्रिक मूवमेंट के कारण शोर पैदा कर सकता है। SSD शोर उत्पन्न नहीं करता है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने Difference Between SSD and HDD in Hindi की SSD और HDD में क्या अंतर होता है के बारे में जाना और साथ में SSD और HDD किसे कहते है इसको भी  अच्छे से समझा।

जब उपयोगकर्ता अधिक विश्वसनीय, टिकाऊ स्टोरेज डिवाइस चाहता है तो उसके लिए SSD (सॉलिड स्टेट डिस्क) एक अच्छा स्टोरेज माध्यम है जबकि HDD (हार्ड डिस्क ड्राइव) एक बेहतर विकल्प है जब उपयोगकर्ता को cost-effective storage की आवश्यकता होती है।

Related Differences:

Magnetic Tape और Magnetic Disk में क्या अंतर है?

Magnetic disk और Optical disk में क्या अंतर है?

RAID 0 और RAID 1 में क्या अंतर है?

CD और DVD में क्या अंतर है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here