What is NAT-Network Address Translation क्या है ?

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की What is NAT-Network Address Translation क्या है ? How does a NAT work-NAT कैसे काम करता है  Why do we need Network Address Translation-NAT की हमें क्या आवश्यकता है ?

What is NAT-Network Address Translation क्या है ?

नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन (NAT) एक ऐसी प्रक्रिया है जहां एक नेटवर्क डिवाइस, आमतौर पर एक फ़ायरवॉल, एक Private Network  के अंदर एक कंप्यूटर (या कंप्यूटर का समूह) के लिए एक Public IP  प्रदान करता है। NAT का मुख्य उपयोग Public IP  की संख्या को सीमित करना है जो किसी Organisation या कंपनी को Economy  और Security Purpose  के लिए उपयोग करना चाहिए।

किसी भी Device को Internet से जुड़ने के लिए IP Address की आवश्यकता होती है। यदि आपके Work Enviornment में 10 Device है तो इन्हें Internet से जुड़ने के लिए 10 ही IP Addresses की आवश्यकता होगी। जैसा की आपको पता है Internet बहुत अधिक गति से बढ़ रहा है और IP address की सँख्या जरुरत से कम है, इसलिए इस समस्या से निपटने के लिए IPV6 को Develop किया जा रहा है लेकिन उसे Implement होने में अभी काफी समय लगेगा।  ऐसी Situation में IP address की आवश्यकता को पूरी करने के लिए NAT (Network Address Translation) का प्रयोग किया जा रहा है।

NAT (Network Address Translation) Cisco द्वारा Develop किया गया है। ये एक Mechanism होता है जो आपके Private Network और Internet के बीच काम करता है। NAT किसी Device पर काम करता है। ये Device कोई भी हो सकता है जैसे की firewall और Router आदि NAT को IETF RFC 1631 में define किया गया है।

मान लीजिये आपके Organization में 25 Devices है जिन्हें Internet से जोड़ा जाना है| Normally देखे तो इसके लिए आपको 25 IP Address की आवश्यकता होगी। लेकिन NAT को Use करते हुए आप एक ही Registered IP Address से सभी Devices को Internet से जोड़ सकते है। NAT के Use से आपको 25 IP Addresses की आवश्यकता नहीं होगी| सभी Devices को आप Unregistered IP Address से Configure करते है| इन IP Address को Local IP Addresses कहा जाता है NAT किसी Organization में IP Addresses की जरुरत को कम कर देता है|

Types of Network Address Translation-NAT के प्रकार

दोस्तों NAT तीन प्रकार के होते है | और सभी को Details में नीचे समझाया गया है |

1. STATIC NAT

Static NAT में एक local IP address की एक global IP address में mapping की जाती है| ये one to one process होती है। जब आप किसी NAT enabled router के दूसरी तरफ के एक device को internet से connect करना चाहे तो इस type के NAT को use करते है|

2. DYNAMIC NAT

Dynamic NAT में जब भी कोई local IP address का device internet से जुड़ने का प्रयास करता है तो registered IP addresses के pool में से एक IP address dynamically select किया जाता है और उसकी local IP address से mapping की जाती है|

3. PORT ADDRESS TRANSLATION (PAT)

इस तरह के NAT में local IP address के traffic को एक single global IP address के अलग अलग ports पर map किया जाता है| PAT का उपयोग उस condition में किया जाता है जब local address की सँख्या global addresses की सँख्या से अधिक होती है।

Advantages of NAT

  • NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) का मुख्य लाभ यह है कि यह IPv4 Address की कमी को रोक करता है।
  • NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) Original Source Address और Destination Address को  छिपाकर सुरक्षा की एक अतिरिक्त Layer  प्रदान कर करता  है।
  • NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) Public Network (Internet)  से जुड़ने पर लचीलापन बढ़ाता है।
  • NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) अपने निजी IPv4 Addressing Systemका उपयोग करने की अनुमति देता है और यदि आप service provider को बदलते हैं तो Internal Address में बदलाव को रोक सकते हैं।

Disadvantages of NAT

  • NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) एक प्रोसेसर और मेमोरी रिसोर्स की खपत करने वाली तकनीक है, क्योंकि NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) को आने वाले और बाहर जाने वाले IPv4 डेटाग्राम के लिए IPv4 एड्रेस ट्रांसलेट करने और ट्रांसलेशन डिटेल्स को मेमोरी में रखने की जरूरत है।
  •  NAT (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) IPv4 Communication  में देरी का कारण हो सकता है।
  • Nat (नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन) end-device to end-device  IP Traceability के नुकसान का कारण बनता है

Conclusion

दोस्तों आज की इस  पोस्ट में हमने सीखा की What is NAT-Network Address Translation क्या है ? NAT-Network Address Translation कितने प्रकार के होते है और NAT-Network Address Translation को इस्तेमाल करने के Advantage और Disadvantage क्या है | दोस्तों मुझे आशा है की आज की यह पोस्ट आपको ज़रूर पसंद आयी होगी |

One Comment

Leave a Reply