What is Voluntary Retirement Scheme in Hindi-स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना क्या है?

इस पोस्ट में हम जानेंगे What is Voluntary Retirement Scheme in Hindi की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना क्या है। Voluntary Retirement Scheme जिसे VRS के नाम से भी जाना जाता है जिसका मतलब स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना है।

इस योजना के तहत एक कर्मचारी को सेवानिवृत्ति की तारीख से पहले स्वेच्छा से सेवाओं से सेवानिवृत्त होने की पेशकश की जाती है। इसे सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों द्वारा लागू किया जा सकता है। VRS को ‘गोल्डन हैंडशेक’ के नाम से भी जाना जाता है।

What is Voluntary Retirement Scheme in Hindi-स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना क्या है?

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना कंपनियों द्वारा अधिशेष कर्मचारियों को कम करने के लिए उपयोग की जाने वाली एक विधि है। यह तरीका भारत में इसलिए आया है क्योंकि श्रम कानून (labor laws) संघबद्ध कर्मचारियों (unionized employees) की सीधी छंटनी की अनुमति नहीं देते हैं।

VRS (Voluntary Retirement Scheme) उस कर्मचारी पर लागू होता है जिसने 10 साल की सेवा पूरी कर ली है या 40 साल से अधिक उम्र का है। यह किसी कंपनी या किसी सहकारी समिति के निदेशकों को छोड़कर, किसी कंपनी या प्राधिकरण या सहकारी समिति के कर्मचारियों और अधिकारियों सहित सभी कर्मचारियों (चाहे वह किसी भी नाम से जाना जाता हो) पर लागू होता हैं।

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

जैसा की हमने ऊपर बताया की यह केवल उस व्यक्ति पर लागू होता है जिसने संगठन में 10 वर्ष की सेवा पूरी कर ली हो यह उस व्यक्ति की आयु 40 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। यह कंपनी या सहकारी समिति के निदेशक को छोड़कर, कंपनी के कर्मचारियों और अधिकारियों सहित सभी कर्मचारियों पर लागू होता है।

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना कैसे काम करती है?

वीआरएस उन कर्मचारियों पर लागू होता है जिन्होंने 10 साल की सेवा पूरी कर ली है या 40 साल से अधिक उम्र के हैं। यह कामगारों, कंपनियों के कार्यपालकों या किसी सहकारी समिति के किसी प्राधिकरण (कंपनी/सहकारी सोसाइटी के निदेशकों को छोड़कर) पर लागू होता है।

नियमों के अनुसार, स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के परिणामस्वरूप कर्मचारियों की मौजूदा संख्या में समग्र रूप से कमी आनी चाहिए और रिक्ति को नहीं भरा जा सकता है।

सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति देने से पहले सरकार की पूर्वानुमति लेनी होगी। फर्म अलग-अलग योजनाएं बना सकती हैं, हालांकि, उन्हें आयकर नियमों की धारा 2BA के तहत दिशानिर्देशों के अनुरूप होना चाहिए।
प्रासंगिक नियमों में से एक में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारी को उसी प्रबंधन से संबंधित किसी अन्य फर्म में नियोजित नहीं किया जाना चाहिए।

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के क्या लाभ है?

तीव्र प्रतिस्पर्धा के कारण आज सही आकार की जनशक्ति एक महत्वपूर्ण प्रबंधन रणनीति बन गई है। वीआरएस को सबसे मानवीय तकनीक माना जाता है जिसका उपयोग फर्म कर्मचारियों को कम करने के लिए कर सकती हैं।

Conclusion

आज की इस पोस्ट में हमने जाना What is Voluntary Retirement Scheme in Hindi की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना क्या है और स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read