What is Silk Technology in Hindi-रेशम प्रौद्योगिकी क्या है?

अगर आप रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) में कोर्स करना चाहते हैं और इसके बारे में सारी डिटेल्स जैसे की रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) क्या है, रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) कोर्स करने के क्या फायदे हैं और रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) का सिलेबस,स्कोप और इसको करने के बाद जॉब और सैलरी क्या मिलती है इन सब चीजों को अच्छे से डिटेल्स में इस पोस्ट में कवर किया गया है।

What is Silk Technology in Hindi-रेशम प्रौद्योगिकी क्या है?

रेशम प्रौद्योगिकी एक इंजीनियरिंग कोर्स है जो कपड़ा इंजीनियरिंग के अंतर्गत आता है। इतने सारे उद्योगों में टेक्सटाइल की मांग बढ़ने के कारण टेक्सटाइल इंजीनियर की मांग हमेशा से ही बहुत ज्यादा रही है।

दोस्तों जैसा कि नाम से पता चलता है की यह कोर्स रेशम के कीड़ों और यहां तक कि कृत्रिम रसायनों जैसे विभिन्न स्रोतों से रेशम के उत्पादन से संबंधित है।

रेशम दुनिया के सबसे पुराने और महंगे कपड़ों में से एक है और इस कपड़ा सामग्री की कभी न खत्म होने वाली मांग को पूरा करने के लिए, और देश में उत्कृष्ट रेशम इंजीनियरों का उत्पादन करने के लिए कॉलेजों ने रेशम तकनीक पर कोर्स शुरू किया है।

Eligibility Criteria (UG & PG) of Silk Technology

प्रवेश परीक्षा के अलावा, छात्रों को रेशम प्रौद्योगिकी में B.Tech/ B.E / M.Tech / M.E पाठ्यक्रमों में आवेदन करने के लिए भी पात्र होना होगा। विभिन्न कॉलेजों में अलग-अलग पात्रता मानदंड हो सकते हैं, लेकिन देश भर के संस्थानों और कॉलेजों द्वारा निम्न मानदंडों का पालन किया जाता है

Eligibility Criteria for Skill Technology UG Courses:

  • रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) में BE और Btech करने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस टेक्नोलॉजी (फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स) में 10+2  किया होना ज़रूरी है और उसमे 50 फीसदी से कम नहीं होने चाहिए।
  • छात्रों को जेईई मेन जैसी प्रवेश परीक्षाओं के लिए भी उपस्थित होना पड़ सकता है और इसी तरह संबंधित कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को भी इसकी आवश्यकता होगी।

Eligibility Criteria for Skill Technology PG Courses:

  • रेशम प्रौद्योगिकी में M. E or M.Tech के लिए आवेदन करने वाले छात्रों को संबंधित क्षेत्र में भारत में किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से यूजी डिग्री होनी चाहिए, और उसमे 55 प्रतिशत से कम अंक न हो।
  • अलग-अलग कॉलेजों जैसे गेट, केपीजीसीईटी आदि के लिए परीक्षा अधिकारियों द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षाओं के लिए उपस्थित होने के लिए कह सकते हैं।

Scope of Silk Technology in India and Abroad

टेक्सटाइल इंजीनियरिंग में रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) एक कोर्स है, और भारत में यह कोर्स विशेष रूप से  वाणिज्यिक बाजारों में कपड़ा उद्योग में बढ़ती मांग के कारण लोकप्रियता में वृद्धि का कारण बन रहा है। रेशम न केवल दुनिया के सबसे महंगे कपड़ों में से एक है, बल्कि सबसे पुराना भी है।

रेशम की मांग में कभी गिरावट नहीं आई है। भारत में, रेशम के उत्पादन में बहुत निरंतरता रही है, लेकिन इस शानदार सामग्री की वैश्विक मांग संस्थानों और सरकार को ऐसे पाठ्यक्रम पेश करने पर जोर दे रही है, जो उत्कृष्ट वस्त्र डिजाइनरों का उत्पादन करेंगे जो उच्च गुणवत्ता वाले रेशम उत्पादों का डिजाइन और निर्माण करेंगे।

ये सिल्क टेक्नोलॉजी और सिल्क टेक्सटाइल इंजीनियर बहुत ज्यादा डिमांड में हैं, खासतौर पर टेक्सटाइल कंपनियों, एक्सपोर्ट हाउस, रिसर्च लैब, क्लॉथ वियर मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स, सिल्क मिल्स में। कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में भी शिक्षण के लिए इन रेशम प्रौद्योगिकी डिजाइनरों की एक बड़ी संख्या की भर्ती की जा रही है।

Job Profiles and Top Recruiters

रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) में बहुत साड़ी जॉब प्रोफाइल है जिसमे आप जॉब कर सकते है।

Silk Engineer-एक रेशम इंजीनियर के रूप में, आपको इंजीनियरिंग और विनिर्माण रेशम में अपने सैद्धांतिक और व्यावहारिक ज्ञान का उपयोग करना होगा।

Silk Designer-रेशम डिजाइनर के रूप में, आपको नए अभिनव विचारों के साथ रेशम डिजाइन और प्रिंट करना होगा।

Researcher-एक शोधकर्ता के रूप में, आपको रेशम फाइबर और यार्न के निर्माण और प्रसंस्करण के लिए नई तकनीकों पर शोध करना होगा।

Textile Manufacturer-एक टेक्सटाइल मैन्युफैक्चरर के रूप में, आपको कंपनियों और गोदामों के लिए कपड़ा उत्पादों का निर्माण करना होगा।

Textile Quality Controller-एक टेक्सटाइल क्वालिटी कंट्रोलर के रूप में, आपको रेशम उत्पादों की गुणवत्ता की जांच करनी होगी और यह सुनिश्चित करना होगा कि उत्पाद उत्पादन के सभी मानकों को पूरा करते हैं।

Conclusion

इस पोस्ट के माध्यम से आज हमने जाना What is Silk Technology in Hindi-रेशम प्रौद्योगिकी क्या है? और रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) कोर्स करने के क्या फायदे है साथ ही इस  पोस्ट में रेशम प्रौद्योगिकी (Silk Technology) की फीस,सिलेबस, टॉप कॉलेज,स्कोप और सैलरी की सारी डिटेल्स को भी हमने अच्छे से जाना।

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read