Power System Engineering में B.Tech कैसे करें?

अगर आप Power System Engineering में B.Tech में कोर्स करना चाहते हैं और इसके बारे में सारी डिटेल्स जैसे की Power System Engineering में B.Tech क्या है, Power System Engineering में B.Tech करने के क्या फायदे और Power System Engineering में B.Tech का सिलेबस,स्कोप और इसको करने के बाद जॉब और सैलरी क्या मिलती है इन सब चीजों को अच्छे से डिटेल्स में इस पोस्ट में कवर किया गया है।

Power System Engineering में B.Tech कैसे करें?

पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में बीटेक एक अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जो पावर सिस्टम में विशेषज्ञता प्रदान करता है। यह कार्यक्रम विद्युत शक्ति, इकोनॉमिक्स और प्रबंधन के अध्ययन को जोड़ता है साथ ही बिजली उत्पादन, ट्रांसमिशन और वितरण, और बिजली उपकरण में पेशेवरों को तैयार करता है।

  • Power System Engineering में B.Tech की अवधि चार वर्ष है और यह पूरा होने के बाद कई करियर विकल्प प्रदान करता है।
  • जिन छात्रों ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण की है, वे Power System Engineering में B.Tech कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।
  • जेईई मेन और जेईई एडवांस जैसी प्रवेश परीक्षाओं के आधार पर Power System Engineering में B.Tech के लिए एडमिशन होते है।
  • Power System Engineering में B.Tech कोर्स की पेशकश करने वाले सरकारी और निजी कॉलेज / विश्वविद्यालय इस कोर्स के लिए औसत INR 2,00,000 और 10,00,000 के बीच है फीस लेते है।
  • Power System Engineering में B.Tech  डिग्री धारक सार्वजनिक और निजी संगठनों में पावर सिस्टम इंजीनियर, लेक्चरर/प्रोफेसर, साइंटिफिक राइटर, रिसर्च साइंटिस्ट आदि पदों पर काम कर सकेंगे।
  • उन्हें आमतौर पर विद्युत उद्योग, बिजली संयंत्र आदि जैसे क्षेत्रों में रोजगार मिलता है और उनका औसत वेतन INR 3, 00,000 और 12, 00,000 के बीच होता है।

BTech Power System Engineering: Course Highlights

Degree BTech Power System Engineering
Full- Form Bachelor of Engineering in Power System Engineering
Duration 4 years
Level Graduation
Eligibility 10+2 with Physics, Chemistry and Mathematics with at least 55% marks
Entrance exams JEE Main or JEE Advanced, Private entrance exams for some private colleges
Course Fee INR 3 to 6 Lacs
Average salary offered INR 4 to 10 Lacs

B.Tech Power System Engineering: Admission Process 

जेईई मेन और जेईई एडवांस्ड कुछ सबसे लोकप्रिय इंजीनियरिंग परीक्षाएं हैं जो देश में आयोजित की जा रही हैं, जो मुख्य रूप से सार्वजनिक विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए अनिवार्य हैं। निजी संस्थान भी Power System Engineering में B.Tech में एडमिशन के लिए अपनी परीक्षाएं आयोजित करते हैं या वे राष्ट्रीय/राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षाओं पर निर्भर हो सकते हैं।

Power System Engineering में B.Tech  कोर्स के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें?

Step 1- Registration: छात्रों को इस चरण में बुनियादी विवरण जैसे फोन नंबर, नाम आदि भरकर एक खाता बनाना होगा।

Step2– Application Form: अब आपको आवेदन में आवश्यक विवरण सावधानी से भरने की आवश्यकता है ताकि सभी जानकारी सही हो।

Step3- Uploading of documents:एक निर्धारित प्रारूप में मार्कशीट, फोटोग्राफ और हस्ताक्षर जैसे सभी आवश्यक दस्तावेजों को स्कैन और अपलोड करें।

Step4- Payment of Application Fees: छात्र शुल्क का भुगतान ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से कर सकते हैं।

Step5- Downloading of the admit card:सभी आवेदकों को पात्रता के लिए आंकने के बाद एडमिट कार्ड जारी किए जाते हैं। छात्रों को परीक्षा के दिन उपयोग किए जाने वाले प्रवेश पत्र का प्रिंट आउट लेना होगा।

Step6- Entrance Exam:सिलेबस और पिछले पेपर के अनुसार परीक्षा की तैयारी करें। परीक्षा की तिथि पर परीक्षा के लिए उपस्थित हों।

Step7- Results: परीक्षा के पूरा होने के  कुछ हफ्तों के बाद घोषित किए जाते हैं। यदि कोई उम्मीदवार प्रवेश के लिए अर्हता प्राप्त करने में सफल होता है तो वे अगले दौर में जा सकते हैं।

Step8- Counseling and Admission: प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों के लिए काउंसलिंग आयोजित की जाती है। इसके बाद सेलेक्ट किये गए छात्र अब Power System Engineering में B.Tech कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।

BTech Power System Engineering: Eligibility Criteria

Power System Engineering में B.Tech इंजीनियरिंग के लिए पात्रता मानदंड जटिल नहीं है बस यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि पात्रता मानदंड एक संस्थान से संस्थान दूसरे में भिन्न हो सकते है।

  • अधिकांश कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में प्रवेश इंजीनियरिंग के लिए एक सामान्य प्रवेश परीक्षा में आवेदक के स्कोर के आधार पर किया जाता है।
  • उम्मीदवारों को इस कोर्स के लिए योग्य होना चाहिए और उन्हें किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से साइंस स्ट्रीम में 10+2 पास होना चाहिए।
  • कुछ प्रवेश परीक्षाओं के लिए उम्मीदवारों को 12 क्लास में न्यूनतम 75% अंक की आवश्यकता होती है।
  • बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए उपयोग की जाने वाली सबसे लोकप्रिय प्रवेश परीक्षाओं में जेईई मेन एंड एडवांस, आईएमयू सीईटी, एसआरएमजेईईई और मेट आदि शामिल हैं।

How to prepare for BTech Power System Engineering Entrance Examinations-बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

उपर्युक्त किसी भी प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे नीचे दिए गए तैयारी सुझावों पर ध्यान दें:

  • छात्रों को कोर्स के सब्जेक्ट के माध्यम से जाने की जरूरत है अधिकांश इंजीनियरिंग प्रवेश रसायन विज्ञान, गणित और भौतिकी के विषयों को कवर करते हैं। जो उम्मीदवार अच्छा स्कोर करना चाहते हैं उन्हें एक टाइम टेबल बना कर सारी विषयो पर ध्यान देना चाहिए ताकि वे परीक्षा में अच्छा स्कोर कर सकें।
  • परीक्षा की तैयारी अच्छे से निर्णय लें और अपने पूरे अध्ययन के दौरान निर्धारित पाठ्यपुस्तकों या तैयारी सामग्री से को ध्यान से पढ़े । यह छात्रों को विशेष रूप से अंत में किसी भी भ्रम से बचने में मदद करेगा।
  • पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों के साथ अभ्यास करें ताकि उम्मीदवार परीक्षा के प्रत्येक खंड और पूछे गए प्रश्नों के पैटर्न से परिचित हो सकें। अभ्यास के साथ, छात्र कठिन वर्गों को पूरा करने के लिए अपनी गति में सुधार कर सकते हैं।

How to get Admission in a good BTech Power System Engineering college-एक अच्छे बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश कैसे प्राप्त करें?

अगर आप एक टॉप बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश सुरक्षित करना चाहते है तो कई कारक काम में आते हैं। नीचे दिए गए कुछ बिंदु कॉलेज में प्रवेश लेते समय सहायक होंगे।

  • छात्रों को परीक्षा में पूछे जाने वाले सभी प्रकार के प्रश्नों के बारे में पता होना चाहिए।
  • Power System Engineering में B.Tech इंट्रेंस एग्जाम में 10+2 स्तर के पाठ्यक्रम से प्रश्न पूछे जाते हैं, इसलिए 10+2 के नोट्स पर को अच्छे से पढ़े और बेसिक कॉन्सेप्ट को बार बार रिवीजन करें।
  • कुछ पेपर में एक अंग्रेजी सेक्शन और एप्टीट्यूड सेक्शन होता है। इनकी तैयारी पिछले साल के प्रश्नपत्रों का अभ्यास करके की जा सकती है।
  • सभी तिथियों और समय सीमा से अवगत रहें। परीक्षा तिथि में बदलाव की किसी भी खबर को ट्रैक करना महत्वपूर्ण है।

Power System Engineering में B.Tech क्या हैं?

बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग प्रोग्राम के बारे में जानकारी और विवरण इस प्रकार हैं।

  • पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में बीटेक प्रौद्योगिकी के नवीनतम क्षेत्रों में से एक है जहां छात्रों को पावर सिस्टम की अवधारणा से परिचित कराया जाता है।
  • प्रौद्योगिकी का यह हिस्सा मुख्य रूप से बिजली के उत्पादन और वितरण से संबंधित है।
  • यह कोर्स ऊर्जा संरक्षण, सतत विकास, नवीकरणीय ऊर्जा इंजीनियरिंग जैसे विषयों में विशेषज्ञता भी प्रदान करता है।

BTech Power System Engineering: Syllabus

अधिकांश इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम के लिए पढ़ाए जाने वाले विषय लगभग समान हैं। संपूर्ण बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम का पाठ्यक्रम इस प्रकार है।

Semester 1 Semester 2
Physics I Physics II
Chemistry Mathematics II
Mathematics I Engineering Graphics
Computer Science Material Science
Environmental Studies OOPs using C++
Semester 3 Semester 4
Mathematics III Energy Conversion
Thermodynamics Electrical Machines
Mechanics of solids Control Engineering
Analogue Electronics Applied Fluid Mechanics
Digital Electronics
Semester 5 Semester 6
Power Generation Engineering Power system protection & switchgear
Applied Numerical methods Power Transmission
Electrical & Electronics measurement Power Distribution & Utilization
Hydro Power Engineering Substation Designing
Semester 7 Semester 8
Renewable Power Distribution & Utilization Power system protection & switchgear
Power Plant Operation & Maintenance Power Transmission
Nuclear Power Generation Power Distribution & Utilization
IC Engineering & Gas Dynamics Substation Designing

बीटेक पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में नौकरी की संभावनाएं

पावर सिस्टम इंजीनियरिंग में बीटेक करने वाले छात्रों द्वारा चुने जा सकने वाले कुछ जॉब प्रोफाइल का उल्लेख नीचे किया गया है: –

Transmission Line planning manager-बिजली के संचरण में ट्रांसमिशन लाइन प्लानिंग मैनेजर की मुख्य जिम्मेदारी होती हैं।

Power ApplicationEngineer-यह इंजीनियर संयंत्र में बिजली अनुप्रयोगों के लिए जिम्मेदार है।

Power plant Design Engineer-एक डिजाइन इंजीनियर की जिम्मेदारी एक ऐसा पावर प्लांट बनाना है जो बिजली के न्यूनतम उपयोग के साथ उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों के कुशलतापूर्वक उत्पादन के लिए उपयुक्त हो।

Power Engineering Supervisor-उनकी जिम्मेदारी टीम के कार्यों की निगरानी करना है ताकि कुशल कार्य किया जा सके।

Electrical Engineer-यह संगठन में विद्युत प्रणालियों के कुशल उपयोग के लिए जिम्मेदार होते है।

Conclusion

इस पोस्ट के माध्यम से आज हमने जाना Power System Engineering में B.Tech कैसे करें और Power System Engineering में B.Tech करने के क्या फायदे है साथ ही इस  पोस्ट में Power System Engineering में B.Tech की फीस,सिलेबस, टॉप कॉलेज,स्कोप और सैलरी की सारी डिटेल्स को भी हमने अच्छे से जाना।

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read