Gaap और IFRS के बीच क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे Gaap और IFRS  किसे कहते है और Difference Between Gaap and IFRS in Hindi की Gaap और IFRS  में क्या अंतर है?

Gaap और IFRS के बीच क्या अंतर है?

IFRS बनाम GAAP यह एकाउंटिंग में सबसे अधिक बहस का विषय है। IFRS को International Financial Reporting Standard के रूप में जाना जाता है, जिसका अर्थ है मानकों का एक सिद्धांत-आधारित सेट। दूसरी ओर आम तौर पर Generally Accepted Accounting Principles (GAAP)  नियमों, परंपराओं और प्रक्रियाओं का संयोजन है, जो स्वीकृत लेखांकन अभ्यास की व्याख्या करता है।

Gaap और IFRS में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम Difference टेबल के माध्यम से नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले हम Gaap और IFRS  किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is GAAP in Hindi-GAAP क्या होता है?

Generally Accepted Accounting Principles or GAAP वित्तीय लेखांकन के लिए कंपनियों द्वारा उपयोग किए जाने वाले मानक ढांचे, सिद्धांतों और प्रक्रियाओं को संदर्भित करता है। सिद्धांत Financial Accounting Standard Board (FASB) द्वारा जारी किए जाते हैं।

यह लेखांकन मानकों का एक सेट है जिसमें वित्तीय डेटा की रिकॉर्डिंग और रिपोर्टिंग के लिए मानक तरीके और नियम शामिल हैं जैसे बैलेंस शीट,आय विवरण, Cash flow विवरण, आदि।

What is IFRS in Hindi-IFRS क्या होता है?

IFRS का पूरा नाम International Financial Reporting Standard है जो International Accounting  Standard Board (IASB) द्वारा जारी वित्तीय रिपोर्टिंग का एक विश्व स्तर पर अपनाया गया तरीका है। पूर्व में, इसे International Accounting Standard (IAS) के रूप में जाना जाता है।

मानक का उपयोग वित्तीय विवरण यानी बैलेंस शीट, आय विवरण, नकदी प्रवाह विवरण, इक्विटी और फुटनोट में परिवर्तन आदि की तैयारी और प्रस्तुति के लिए किया जाता है।

IFRS अंतर्राष्ट्रीय व्यापार की तुलना और समझ को सुनिश्चित करता है। इसका उद्देश्य उपयोगकर्ताओं को कंपनी की वित्तीय स्थिति, प्रदर्शन, लाभप्रदता और तरलता के बारे में जानकारी प्रदान करना है, ताकि उन्हें तर्कसंगत आर्थिक निर्णय लेने में मदद मिल सके।

वर्तमान में लगभग 120 देशों ने IFRS को लेखांकन विवरण को नियंत्रित करने के लिए एक ढांचे के रूप में अपनाया है। IFRS को अपनाने के साथ, वित्तीय विवरण की प्रस्तुति बेहतर, आसान और विदेशी प्रतिस्पर्धियों के समान होगी।

Difference Between Gaap and IFRS in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की Gaap और IFRS किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Gaap और IFRS के बीच क्या अंतर है इसके बारे में अच्छे से पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी Gaap और IFRS क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई कन्फ़्युशन है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

BASIS FOR COMPARISON GAAP IFRS
Acronym Generally Accepted Accounting Principles International Financial Reporting Standard
Meaning A set of accounting guidelines and procedures, used by the companies to prepare their financial statements is known as GAAP. IFRS is the universal business language followed by the companies while reporting financial statements.
Developed by Financial Accounting Standard Board (FASB). International Accounting Standard Board (IASB).
Based on Rules Principles
Inventory valuation FIFO, LIFO and Weighted Average Method. FIFO and Weighted Average Method.
Extraordinary items Shown below. Not segregated in the income statement.
Development cost Treated as an expense Capitalized, only if certain conditions are satisfied.
Reversal of Inventory Prohibited Permissible, if specified conditions are met.

Key Differences Between GAAP and IFRS

GAAP और IFRS के बीच महत्वपूर्ण अंतर को निम्नानुसार समझाया गया है:

  • GAAP का मतलब आम तौर पर स्वीकृत लेखा सिद्धांत है। IFRS अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय रिपोर्टिंग मानक का संक्षिप्त नाम है।
  • GAAP लेखांकन दिशानिर्देशों और प्रक्रियाओं का एक समूह है, जिसका उपयोग कंपनियां अपने वित्तीय विवरण तैयार करने के लिए करती हैं। IFRS वित्तीय विवरणों की रिपोर्ट करते समय कंपनियों द्वारा अपनाई जाने वाली सार्वभौमिक व्यावसायिक भाषा है।
  • Financial Accounting Standard Board (FASB) GAAP जारी करता है जबकि International Accounting Standard Board (IASB) ने IFRS जारी किया है।
  • GAAP के मामले में आय के विवरण के नीचे असाधारण वस्तुओं को दिखाया गया है। इसके विपरीत, IFRS में, ऐसी वस्तुओं को आय विवरण में अलग नहीं किया जाता है।
  • GAAP में विकास लागत को एक व्यय के रूप में माना जाता है, जबकि IFRS में, लागत को पूंजीकृत किया जाता है बशर्ते कि निर्दिष्ट शर्तें पूरी हों।
  • GAAP के तहत इन्वेंटरी रिवर्सल सख्त वर्जित है, लेकिन IFRS इन्वेंट्री रिवर्सल को निर्दिष्ट शर्तों के अधीन पूरा करने की अनुमति देता है।
  • IFRS सिद्धांतों पर आधारित है, जबकि GAAP नियमों पर आधारित है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना की Gaap और IFRS  किसे कहते है और Difference Between Gaap and IFRS in Hindi की Gaap और IFRS  में क्या अंतर है।

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read