Printer और Scanner में क्या अंतर है?

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे Printer और Scanner किसे कहते है और Difference Between Printer and Scanner in Hindi की Printer और Scanner में क्या अंतर है?

Printer और Scanner में क्या अंतर है?Printer और Scanner में क्या अंतर है?

प्रिंटर और स्कैनर एक दूसरे से पूरी तरह से अलग-अलग डिवाइस और दोनों के काम भी एक दूसरे से भिन्न हैं जहां एक प्रिंटर आउटपुट डिवाइस है जबकि स्कैनर एक इनपुट डिवाइस है।

अगर प्रिंटर और स्कैनर के बीच के मुख्य अंतर की बात की जाये तो प्रिंटर किसी कंप्यूटर फाइल की सॉफ्ट कॉपी को इसकी हार्ड कॉपी में परिवर्तित करता हैं। दूसरी ओर, स्कैनर प्रिंटर के ठीक विपरीत काम करता है यह हार्ड कॉपी को सॉफ्ट कॉपी में बदलता है।

प्रिंटर के द्वारा जब हम किसी फाइल का प्रिंटआऊट लेते है तो वह हार्ड कॉपी होती हैं इसके विपरीत, सॉफ्ट कॉपी एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में देखा जा सकता है जैसे कि कंप्यूटर में एक प्रकार की फाइल उदाहरण के लिए कंप्यूटर में इमेज और टेक्स्ट फाइल।

इसके आलावा भी एक प्रिंटर और स्कैनर में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको डिफरेंस टेबल के माध्यम से हम नीचे समझेंगे लेकिन उससे पहले प्रिंटर और स्कैनर क्या होता है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is Printer in Hindi-प्रिंटर किसे कहते हैं?

एक प्रिंटर कंप्यूटर की एक हार्डवेयर आउटपुट डिवाइस है जिसका काम कंप्यूटर से टेक्स्ट और ग्राफिक्स को हार्डकॉपी पर प्रिंटआउट करने के लिए किया जाता है। प्रिंटर डॉक्युमेंट्स को प्रिंट करने के लिए कंप्यूटर या अन्य उपकरणों पर उपयोगकर्ताओं द्वारा दिए गए इनपुट कमांड को स्वीकार करता है।

उदाहरण के लिए, यदि आपको अपने कॉलेज में प्रोजेक्ट रिपोर्ट जमा करनी है, तो सबसे पहले आपको अपने कंप्यूटर में अपनी रिपोर्ट की एक सॉफ्ट कॉपी तैयार करनी होगी और उसे प्रिंटर की सहायता से प्रिंट करना होगा।

प्रिंटर एक बहुत ही सामान्य कंप्यूटर डिवाइस में से एक है जिसे दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है जो  2D और 3D printers हैं। 2D प्रिंटर का उपयोग टेक्स्ट और ग्राफिक्स को एक पेपर पर प्रिंट करने के लिए किया जाता है, और 3D printers का उपयोग three dimensional फिजिकल  वस्तुओं को बनाने के लिए किया जाता है।

Types of Printer-प्रिंटर के प्रकार

एक प्रिंटर को उसके आकार, लागत, प्रिंट करने की गति  के आधार पर भी वर्गीकृत किया जा सकता है। आमतौर पर जिस प्रिंटर की डोक्यूमट्स को प्रिटं करने की स्पीड ज्यादा होती है उसकी कीमत बढ़ जाती है। मुख्य रूप से, सभी प्रकार के प्रिंटर को पहले दो प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है, जैसे – Impact Printer और Non-impact Printer.

Impact Printer

इम्पैक्ट प्रिंटर डोक्यूमट्स को प्रिंट करने के लिए अक्षरों को स्याही भरी रीबन पर इन्हे मारते हैं तब वह अक्षर कागज पर छपता हैं। इम्पैक्ट प्रिंटर ठीक वैसे ही काम करता है जैसे एक टाइपराइटर काम करता है। डॉट-मैट्रिक्स प्रिंटर, लाइन प्रिंटर और डेज़ी व्हील प्रिंटर यह सब इम्पैक्ट प्रिंटर की अंतर्गत ही आते हैं।

Non-impact Printer

यह अन्य प्रकार का प्रिंटर है, जो पेपर पर अक्षरों को प्रिंट करने के लिए Hammering effect का उपयोग नहीं करता है। इसकी प्रिंटिंग़ क्वालिटि बहुत साफ होती हैं और यह शोर भी बहुत कम करते  हैं।

इन प्रिंटर्स के द्वारा आप ग्राफिक्स प्रिंटिंग आराम से कर सकते हैं। Non-impact Printer की लागत इंपैक्ट प्रिंटर की तुलना में थोडी सी ज्यादा होती हैं।  मगर इनका परिणाम बेहतर होता हैं। इंकजेट प्रिंटर और लेजर प्रिंटर Non-impact Printer की  श्रेणी में आते हैं।

What is Scanner in Hindi-स्कैनर किसे कहते है?

एक स्कैनर कंप्यूटर की इनपुट डिवाइस है जो किसी डॉक्यूमेंट की हार्ड कॉपी को उसकी सॉफ्ट कॉपी में परिवर्तित करता है दूसरे शब्दों में कहे तो यह डॉक्युमेंट्स को स्कैन करता है और फिर उन्हें एक डिजिटल प्रारूप में परिवर्तित करता है।

यह दस्तावेज़ का एक इलेक्ट्रॉनिक संस्करण उत्पन्न करता है जिसे कंप्यूटर पर देखा और संशोधित किया जा सकता है। यह एक ऐसी मशीन है जो ऑप्टिकल अक्षरों को पहचानती है।

Feature of Scanner:

  • Resolution 
  • Scanning Area 
  • Compatibility
  • Scanning Speed
  • Scanning Method 

Types of Scanner-स्कैनर के प्रकार 

विभिन्न प्रकार के स्कैनर होते हैं, जैसे कि फ्लैटबेड स्कैनर, शीट-फेड स्कैनर, ड्रम स्कैनर और हैंडहेल्ड स्कैनर जिनके बारे में नीचे बताया गया है।

Flatbed scanner

फ्लैटबेड सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला स्कैनर है। इस प्रकार के स्कैनर में ग्लास बेड होता है जिसके नीचे डॉक्यूमेंट लगा होता है ताकि स्कैनर हेड आसानी से डॉक्यूमेंट के ऊपर जा सके।

Sheet-fed scanners

इन प्रकार के स्कैनर में Movable Scan Head का उपयोग किया जाता है जहां पेपर डाक्यूमेंट्स को एक रोलर में डाला जाता है। स्कैन कमांड देने के बाद ये रोलर्स कागज को अंदर रोल करने में मदद करते हैं और पूरे दस्तावेज को एक निश्चित स्कैनर हेड के माध्यम से गुजरते हैं।

Handheld scanners

ये स्कैनर अन्य प्रकारों से भिन्न हैं क्योंकि इसे स्कैन करने के लिए इसे दस्तावेज़ पर डिवाइस को मैन्युअल रूप से संचालित करने की आवश्यकता होती है। हालांकि, इन स्कैनर की छवि गुणवत्ता अन्य स्कैनर की तुलना में बहुत अच्छी नहीं है।

Drum scanners

इन स्कैनर का उपयोग द्वारा अत्यधिक विस्तृत इमेज को स्कैन करने  के लिए किया जाता है जो इमेज  को कैप्चर करने के लिए एक फोटोमल्टीप्लायर ट्यूब का उपयोग करता है। इसमें एक ग्लास सिलेंडर है जिस पर दस्तावेज़ चिपका हुआ है और सिलेंडर के बीच में एक सेंसर प्रकाश को द्विभाजित करने के लिए है जो फिर दस्तावेज़ से तीन बीम में परिलक्षित होता है।

Difference Between Printer and Scanner in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की Printer और Scanner किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Printer और Scanner के बीच क्या अंतर है इसके बारे में अच्छे से पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी Printer और Scanner क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई कन्फ़्युशन है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

PRINTERS SCANNERS
यह कम्यूटर के किसी फाइल को उसकी सॉफ्ट कॉपी से हार्ड कॉपी में परिवर्तित करता हैं। स्कैनर एक ऐसी डिवाइस है जो  डॉक्यूमेंट को स्कैन करता है और फिर उन्हें एक डिजिटल प्रारूप में परिवर्तित करता है।
प्रिंटर एक Output Device होती है। स्कैनर एक Input Device होती है।
डिजिटल डॉक्यूमेंट को पेपर पर एक प्रभावकारी सामग्री या प्रभाव बनाकर प्रदान किया जाता है। Illuminating lamp का उपयोग स्कैन सिर पर लेंस पर प्रकाश को प्रतिबिंबित करने के लिए किया जाता है, जिसे बाद में सीसीडी सरणी पर फोकस किया जाता है।
प्रिंटर के कुछ उदाहरण – Laser Printers, Solid Ink Printers, LED Printers., Business Inkjet Printers, Home Inkjet, Printers, 3D Printers. स्कैनर के कुछ उदाहरण Flatbed, Sheet-fed, Handheld, और Drum scanners

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Printer और Scanner किसे कहते है और Difference Between Printer and Scanner in Hindi की Printer और Scanner में क्या अंतर है?

एक प्रिंटर और एक स्कैनर का काम एक दूसरे से पूरी तरह से विपरीत है जहां किसी फाइल की सॉफ्ट कॉपी को कागज पर हार्ड कॉपी में बदलने के लिए प्रिंटर का उपयोग किया जाता है। इसके विपरीत, एक स्कैनर एक किसी डॉक्युमनेट की हार्ड कॉपी को इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेज़ में यानि की सॉफ्ट कॉपी में परिवर्तित करता।

हालाँकि आजकल के समय में एक ही डिवाइस प्रिंटर और स्कैनर की सुबिधा प्रदान की जाती है ऐसे प्रिंटर्स को All in One के नाम से जाता है जो प्रिंटर, स्कैनर और फोटोकॉपी मशीनों द्वारा किए जा सकने वाले सभी कार्य करने में सक्षम होते है।

Related Differences:

VGA और HDMI में क्या अंतर है?

Inkjet printer और Laser printer में क्या अंतर है?

Dot matrix printer और Laser printer में क्या अंतर है?

Optical Mouse और Laser Mouse में क्या अंतर है?

Plotter और Printer में क्या अंतर है?

Ravi Girihttps://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read