क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है -What is Cloud Computing in hindi?

Hello Friends कैसे हो आप लोग..दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम जानने वाले है की क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है -What is Cloud Computing in hindi? Cloud Computing के Advantages और Disadvantage  क्या हैं | क्लाउड कंप्यूटिंग कितने प्रकार की होती है | क्लाउड सर्विस मॉडल क्या है | क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है जानने से पहले आपको यह ज़रूर पता होना चाहिए की What is Cloud? क्लाउड क्या हैं ? 

क्लाउड क्या हैं –What is Cloud in hindi?

कम्प्यूटर की दुनियाँ में क्लाउड शब्द नेटवर्क या इंटरनेट को संदर्भित करता है। दूसरे शब्दों में, हम कह सकते हैं कि क्लाउड कुछ ऐसा है, जो दूरस्थ स्थान पर मौजूद है। क्लाउड Private  और Public Network , यानी, WAN, LAN या VPN पर सेवाएं प्रदान कर सकता है। इसमें Information और Data को  Physical अथवा Virtual Servers  पर Store किया जाता है और जिसकी देख रेख Cloud Computing Provider के द्वारा जाती हैं जैसे की Amazon और उनके AWS Product एक व्यक्तिगत या व्यावसायिक क्लाउड कंप्यूटिंग उपयोगकर्ता के रूप में, आप इंटरनेट कनेक्शन के माध्यम से, ‘क्लाउड’ पर अपने Stored Data तक पहुँचते हैं।

दोस्तों मुझे आशा है की अब आपको “क्लाउड क्या हैं” इसके बारे कोई Confusion  नहीं होगी तो चलिए अब जानते की क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है ?

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है -What is Cloud Computing in hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है -What is Cloud Computing in hindi?

सरल शब्दों में, क्लाउड कंप्यूटिंग एक ऐसी Technology है जिसमे द्वारा  इंटरनेट के माध्यम से Infrastructure, Platform Application, Data  Storage जैसी Services प्रोवाइड की जाती हैं | दूसरे शब्दों में  क्लाउड कंप्यूटिंग एक तरह से इंटरनेट आधारित कंप्यूटिंग हैं, जिसमें Computer और अन्य Devises के लिए डिमांड पर Data और Resource  शेयर किए जाते हैं| Cloud Computing का  इस्तेमाल करना यानि आपकी फ़ाइलों को ऐसी जगह स्‍टोर करना जो आपके System की Local Drive के बजाय Cloud पर होता है , क्लाउड कंप्यूटिंग में “Cloud” का मतलब इंटरनेट होता हैं |

क्लाउड कंप्यूटिंग में Data को फिजिकल सर्वर पर स्‍टोर किया जाता हैं जिन्‍हे क्लाउड कंप्यूटिंग प्रोवाइडर द्वारा मेन्टेन और कंट्रोल किया जाता हैं| क्लाउड स्‍टोरेज में आपको आपके खुद के हार्ड ड्राइव पर इनफॉर्मेशन स्टोर करने की जरूरत नही होती। इसके बजाय, यह क्‍लाउड स्‍टोरेज पर स्‍टोर होती हैं, और आप इसे इंटरनेट के डरा किसी भी Location से Access कर सकते हैं |

क्लाउड कंप्यूटिंग ही क्यों -Why Cloud Computing ?

दोस्तों आपके मन में यह प्रशन भी ज़रूर आ रहा होगा की  “क्लाउड कंप्यूटिंग ही क्यों -Why Cloud Computing” तो आपकी यह Confusion भी मै दूर करने के पूरी कोशिश करूँगा | दरअसल, छोटी और साथ ही में कुछ बड़ी आईटी कंपनियां आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रदान करने के लिए पारंपरिक तरीकों का पालन करती हैं। इसका मतलब है कि किसी भी आईटी कंपनी के लिए, हमें एक सर्वर रूम की आवश्यकता होती है, जो आईटी कंपनियों की बुनियादी जरूरत है ।

Server Room में  हमें एक डेटाबेस सर्वर, मेल सर्वर, नेटवर्किंग, फायरवॉल, राउटर, मॉडेम, स्विच, QPS (Query Per Second means how much queries or load will be handled by the server), configurable system, high net speed  और रखरखाव के लिए Engineers की आवश्यकता होती हैं । इन सब चीजों को Establish करने के लिए Companies को बहुत सारे पैसे खर्च करने पड़ते हैं इन सभी समस्याओं को दूर करने और IT infrastructure  की लागत को कम करने के लिए, क्लाउड कम्प्यूटिंग अस्तित्व में आता है। Cloud Computing इस्तेमाल काने के और भी बहुत सारे फायदे है जिन्हे डिटेल्स में नीचे बतया गया है |

क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ Advantages of Cloud Computing in Hindi

दोस्तों अगर क्लाउड कंप्यूटिंग के फायदों की बात कर तो इसके एक नहीं अनेको फायदे हैं  और इसीलिए यह  Technology  इतनी  तेजी से आगे बड रही है और आने वाले कुछ दिनों में यह मार्किट में और भी ज्यादा जगह बना लेगी | आज के समय में हम सब लोग क्लाउड कंप्यूटिंग का इस्तेमाल है , जब आप अपने Facebook या WhatsApp अकाउंट पर कोई स्टेटस अपडेट करते हैं, या जब आप फोन पर अपने Bank Account का Balance Check करते हैं  अथवा Youtube पर कोई Video देखते है यह सब Cloud Computing ही है | आज हम कह सकते हैं कि क्लाउड कंप्यूटिंग सेवाएं आम हो रही है हैं और सभी लोग इसका इस्तेमला कर रहे है ।

अनुमान के अनुसार, United Kingdom में 90% Businesses Cloud Computing का इस्तेमाल कर रहे हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि इतने सारे व्यवसाय इस ओर क्यों बढ़ रहे हैं? यह केवल इसलिए है क्योंकि क्लाउड कंप्यूटिंग के कई फायदे हैं। चलिए क्लाउड कंप्यूटिंग के इस्तेमाल करने से होने वाले फायदों पर एक नज़र डालते है ।

क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ Advantages of Cloud Computing in Hindi

1. Less Costs

Cloud Computing इस्तेमाल करने का सबसे बड़ा फायदा यह है की इसमें Organisations को अपना खुद का IT Infrastructure बनाने की कोई ज़रुरत नहीं हैं | इससे कंप्यूटिंग हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर खरीदने, साइट सेट करने,सर्वरों के रैक को चलाने और Cooling के लिए चौबीसों घंटे बिजली, IT Infrastructure के  Management  के लिए IT Experts की ज़रुरत नहीं होती और इस तरह Organisation  Cloud Computing का इस्तेमाल करके अपना काफी पैसा बचा लेती  हैं |

2. 24 X 7 Availability

अधिकांश Cloud Computing Provider अपनी सेवाओं की पेशकश करने में वास्तव में विश्वसनीय होते हैं, जिनमें से अधिकांश 99.9% का अपटाइम बनाए रखते हैं। अगर आपको कोई प्रॉब्लम आतीं है तो आपको 24 X 7 Tech Support Availability की गारंटी भी देती है |

3. Flexibility in Capacity

Cloud Computing Provider आपको बेहद flexible facility  प्रदान करते है जिसे उपयोगकर्ता अपने Organisation की Requirement के अनुसार Facilities को चुन सकता है। अगर आपकी जरूरतें  भविष्य में बढ़ जाती हैं तो आप आसानी से अपनी क्लाउड क्षमता को बढ़ा सकते हैं। Cloud Computing कर्मचारियों को उनके work practices में और अधिक Flexibility देने अनुमति देता है उदाहरण के लिए आप छुट्टी के दिन,ऑफिस का डाटा , Emails अपने घर से Access कर सकते हो

4. All over Functioning

क्लाउड कंप्यूटिंग इस्तेमला करने का  एक और बहुत  बड़ा लाभ यह है की आप दुनियां में कहीं से भी अपने Cloud Data का Access कर सकते हो बस आपके पास Internet Connected के कंप्यूटर होना चाहिए |

5. Automated Updates on Software

क्लाउड कंप्यूटिंग में, server suppliers  नियमित रूप से आपके सॉफ़्टवेयर को अपडेट करते हैं जिसमें Security Update भी शामिल होते  हैं, ताकि आपको सिस्टम को बनाए रखने पर अपना महत्वपूर्ण समय बर्बाद करने की ज़रूरत न हो। वह समय आप अपने Business  को और बढ़ाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं |

6. Security

Cloud Computing सुरक्षा के लिहाज से भी काफी अच्छा है | बहुत सारी कम्पनियाँ सिर्फ Security Purpose से ही Cloud Computing का इस्तेमला करती है क्योकि Cloud Computing  Local servers की तुलना में ज़्यदा Secure होते हैं | यहाँ तक की क्लाउड कम्यूटिंग में आपको  Natural disaster में भी अपने Data और Business applications को खोने के बारे में चिंता करने की कभी भी आवश्यकता नहीं है।

7. Enhanced Collaboration

क्लाउड-आधारित सेवाओं के साथ, कर्मचारी कभी भी और कहीं से भी Data को  Access, Edit और Share  कर सकते हैं। यह कार्यों को कुशलतापूर्वक करने के लिए एक बेहतर टीम सहयोग के निर्माण में मदद करता है। क्लाउड-आधारित document sharing applications भी कर्मचारियों को किसी भी दस्तावेज़ को अपडेट करने की अनुमति देते हैं, जिसके साथ प्रत्येक अधिकृत उपयोगकर्ता को संपादन के बारे में पता होता है।

8. Control on the Documents

क्लाउड के अस्तित्व में आने से पहले, Employees को एक समय में एक ही User द्वारा काम करने के लिए ईमेल अटैचमेंट के रूप में फाइल को बाहर भेजने की आवश्यकता होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं है आप अपनी फाइल को कई लोगो के साथ एक साथ Share कर सकते है |

 

Users के लिए Cloud computing को Feasible और Accessible बनाने के लिए Back end में कुछ Models और Services काम करती है |  जिन्हे Cloud computing Deployment Models और Service Models कहा जाता है Cloud computing Deployment Models और Service Models के बारे में Details में  जानने के लिए ज़रूर पढ़े | 

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट से हमने सीखा की क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है -What is Cloud Computing in hindi? और Cloud Computing के Advantages और Disadvantage  क्या हैं | अंत में हम यह कह सकते है की  क्लाउड कंप्यूटिंग एक नयी Technology  है जो दुनिया पर बहुत प्रभाव डालने की क्षमता रखता है। इसके कई लाभ हैं जो इसे उपयोगकर्ताओं और व्यवसायों को प्रदान करता है। क्लाउड कंप्यूटिंग अभी एक Latest Technology हैं  इसलिए लोग इस बात को लेकर बहुत Confusion में रहते हैं कि Cloud पर उनका डेटा सुरक्षित और Private है या नहीं। 

Leave a Reply