Difference Between Cloud Computing and Virtualization in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between Cloud Computing and Virtualization in Hindi में जानेंगे की Cloud Computing और Virtualization के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between Cloud Computing and Virtualization in HindiDifference Between Cloud Computing and Virtualization in Hindi

अगर आपने क्लाउड कंप्यूटिंग के बारे में पढ़ा होगा तो आपको पता होगा की क्लाउड कंप्यूटिंग और वर्चुअलाइजेशन एक दूसरे के बहुत निकट से संबंधित शब्द हैं जहां वर्चुअलाइजेशन के द्वारा किसी एक रिसोर्स पर बहुत सारे काम कर सकते हो दूसरी और क्लाउड कंप्यूटिंग हमें IT infrastructure और आवश्यक सेवाएं जैसे की servers, storage, databases और  software प्रदान करता है।

वर्चुअलाइजेशन क्लाउड कंप्यूटिंग को कार्यात्मक बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली प्राथमिक तकनीक है। हालाँकि, क्लाउड कंप्यूटिंग और वर्चुअलाइजेशन एक दूसरे से अलग है और दोनों में महत्वपूर्ण अंतर पाए जाते है जिनको हम डिफरेंस टेबल के माध्यम से नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम Cloud Computing और  Virtualization किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

क्लाउड कंप्यूटिंग किसे कहते है?

क्लाउड कंप्यूटिंग एक आधुनिक कंप्यूटिंग टेक्नोलॉजी है जो इंटरनेट के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को स्केलेबल और काफी लचीली IT infrastructure और आवश्यक सेवाएं जैसे की servers, storage, databases और  software प्रदान करता है।

यह क्लाइंट-सर्वर आर्किटेक्चर को Follow करता है। क्लाउड कंप्यूटिंग में उपयोगकर्ता को उनके उपयोग के अनुसार ही भुगतान करने की आवश्यकता होती है या इसे मीटरिंग बिलिंग कहा जा सकता है।

वर्चुअलाइजेशन की अवधारणा को क्लाउड में उपयोग किया जाता है मतलब इसपर आप hypervisor (VM) का भी उपयोग कर सकते है जिसके माध्यम से उपयोगकर्ता एक ही सर्वर पर कई ऑपरेटिंग सिस्टम चला सकता है।

क्लाउड शब्द दो मूलभूत अवधारणाओं के लिए प्रासंगिक है। जिनमें से एक abstraction है और दूसरा virtualization है।

Abstraction: क्लाउड कंप्यूटिंग अंतिम उपयोगकर्ताओं और डेवलपर्स से सिस्टम कार्यान्वयन के विवरण को छुपाता है। एप्लीकेशन अपरिभाषित फिजिकल सिस्टम पर चलते हैं। इसी तरह, डेटा को अनिर्धारित स्थानों पर संग्रहीत किया जाता है।

Virtualization: वर्चुअलाइजेशन, क्लाउड कंप्यूटिंग में पूलिंग और संसाधनों को साझा करके एक आवश्यक कार्य करता है। यह centralized infrastructure से आवश्यकतानुसार सिस्टम और स्टोरेज  को प्रदान कर सकता है। इसके द्वारा आप एक ही सर्वर को कई वर्चुअल सर्वर में बाँट सकते है।

What is Virtualization in Hindi-वर्चुअलाइजेशन किसे कहते है?

वर्चुअलाइजेशन क्लाउड कंप्यूटिंग की नींव है यह ऐसी तकनीक है जो एक फिजिकल हार्डवेयर सिस्टम पर कई वर्चुअल मशीन बनाने में मदद करता है।

 यहां हाइपरविजर की भूमिका महत्वपूर्ण है, जो इससे कई वर्चुअल मशीन बनाने के लिए सीधे हार्डवेयर से जुड़ा है। ये वर्चुअल मशीनें एक ही मशीन पर अलग अलग होती हैं और एक-दूसरे के काम के साथ हस्तक्षेप नहीं करती हैं।

वर्चुअलाइजेशन सर्वर और स्टोरेज वर्चुअलाइजेशन सहित विभिन्न वर्गों में मौजूद हो सकता है। सर्वर और स्टोरेज वर्चुअलाइजेशन क्या होता है इसको नीचे बताया गया है।

Server virtualization -सर्वर वर्चुअलाइजेशन एक सर्वर पर चल रहे एप्लिकेशन और OS  को स्टोर करने के लिए उपयोग किए जाने वाले हार्डवेयर के बीच एक abstraction layer का निर्माण करता है। सर्वर वर्चुअलाइजेशन के द्वारा आप एक ही हार्डवेयर मशीन पर दो ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टाल कर सकते हो।

Storage virtualization-स्टोरेज वर्चुअलाइजेशनजहां एप्लिकेशन और स्टोरेज के बीच एक एब्स्ट्रैक्शन लेयर  मौजूद है। यह संगठनों या उपयोगकर्ताओं की स्टोरेज लागत को बड़े पैमाने पर कम कर सकता है। इसके द्वारा किसी बड़े स्टोरेज स्पेस को अच्छे से Utilized किया जा सकता है।

Cloud computing और Virtualization में क्या अंतर हैं?

अभी तक ऊपर हमने जाना की Cloud computing और Virtualization किसे कहते है? अगर आपने ऊपर दी गयी सारी बाते ध्यान से पढ़ी है तो आपको Cloud computing और Virtualization के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा ।

अगर आपको अब भी Cloud computing और Virtualization में कोई confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO CLOUD COMPUTING VIRTUALIZATION
1. क्लाउड कंप्यूटिंग का उपयोग Pools और Automated Resource प्रदान करने के लिए किया जाता है जिन्हें ऑन-डिमांड एक्सेस जा सकता है। जबकि इसका उपयोग एकफिजिकल हार्डवेयर सिस्टम के माध्यम से विभिन्न वर्चुअल मशीन बनाने के लिए किया जाता है।
2. क्लाउड कंप्यूटिंग का सेटअप थोड़ा जटिल है। जबकि क्लाउड कंप्यूटिंग की तुलना में वर्चुअलाइजेशन सेटअप सरल है।
3. क्लाउड कंप्यूटिंग हाई स्केलेबल है। जबकि क्लाउड कंप्यूटिंग की तुलना में वर्चुअलाइजेशन कम स्केलेबल है।
4. क्लाउड कंप्यूटिंग बहुत फ्लेक्सिबल है। जबकि क्लाउड कम्प्यूटिंग की तुलना में वर्चुअलाइजेशन कम लचीला है।
5. डिजास्टर रिकवरी की स्थिति में, क्लाउड कंप्यूटिंग कई मशीनों पर निर्भर करती है। जबकि यह एकलperipheral device पर निर्भर करता है।
6. क्लाउड कंप्यूटिंग में, कार्यभार स्टेटलेस होता है। वर्चुअलाइजेशन में, वर्कलोड स्टेटफुल है।
7. क्लाउड कंप्यूटिंग की कुल लागत वर्चुअलाइजेशन से अधिक है। वर्चुअलाइजेशन की कुल लागत क्लाउड कंप्यूटिंग की तुलना में कम है।
8. क्लाउड कंप्यूटिंग में कई डेडिकेटेड हार्डवेयर की आवश्यकता होती है। जबकि सिंगल डेडिकेटेड हार्डवेयर इसमें बहुत अच्छा काम कर सकता है।
9. क्लाउड कंप्यूटिंग असीमित स्टोरेज स्पेस प्रदान करता है। जबकि वर्चुअलाइजेशन में स्टोरेज स्पेस फिजिकल सर्वर की क्षमता पर निर्भर करता है।
10. क्लाउड कंप्यूटिंग दो प्रकार की होती है: पब्लिक क्लाउड और प्राइवेट क्लाउड। वर्चुअलाइजेशन दो प्रकार का होता है: हार्डवेयर वर्चुअलाइजेशन और एप्लिकेशन वर्चुअलाइजेशन।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between Cloud Computing and Virtualization in Hindi की Cloud Computing और Virtualization के बीच में क्या अंतर होता हैं इसके साथ ही क्लाउड कंप्यूटिंग और वर्चुअलाइजेशन किसे कहते है इसको भी हमने अच्छे से जाना।

सरल शब्दों में, वर्चुअलाइजेशन क्लाउड कंप्यूटिंग का एक हिस्सा है जहां मैनुअल मैनेजमेंट एक हाइपरवाइजर के साथ interacting करने के लिए किया जाता है। दूसरी ओर, क्लाउड कंप्यूटिंग में, एक्टिविटी self-managing  होती हैं जहां एकAPI (Application Program Interface) का उपयोग किया जाता है ताकि उपयोगकर्ता क्लाउड सेवा का स्व-उपभोग कर सकें।

Related Differences:

Difference Between Cloud computing and Grid computing in Hindi.

Difference Between Cloud Computing and Big Data in Hindi.

Difference Between Azure and AWS in Hindi.

Difference Between Network and Internet in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here