Difference Between OSPF and BGP in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between OSPF and BGP in Hindi में जानेंगे की OSFP और BGP Protocol के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between OSPF and BGP in HindiDifference Between OSPF and BGP in Hindi

OSPF और BGP दोनों ही Routing प्रोटोकॉल है अगर दोनों के बीच में मुख्य अंतर की बात की जाये तो OSPF एक intradomain routing protocol है जबकि BGP एक interdomain routing protocol है।  OSPF प्रोटोकॉल Link State Routing का उपयोग करता है। दूसरी ओर, BGP  प्रोटोकॉल Path vector routing का उपयोग करता है।

इसके आलावा भी OSPF और BGP प्रोटोकॉल में कुछ महत्त्वपूर्ण अंतर पाए जाते है जिनको हम Difference Table के माध्यम से नीचे जानेगे लेकिन उससे पहले हम  OSPF और BGP प्रोटोकॉल को और अच्छे से समझ लेते है।

What is OSPF in Hindi-OSPF प्रोटोकॉल किसे कहते हैं?

OSPF जिसका फुलफॉर्म Open Shortest Path First है यह एक प्रकार का Hierarchical Network Topology या Design है जो नेटवर्क में पैकेट को सेंड करने के लिए Fastest Path के बजाय Shortest Path को चुनता है। OSPF एक interior gateway protocol है।

RIP प्रोटोकॉल की कुछ Limitations और खामियों की वजह से OSPF प्रोटोकॉल को बनाया गया था क्योकि RIP प्रोटोकॉल का इस्तेमाल एक छोटे नेटवर्क में ही किया जा सकता है जबकि OSPF को एक बड़े नेटवर्क में Implement किया जा सकता है।

What is BGP protocol in Hindi-BGP प्रोटोकॉल किसे कहते है?

BGP जिसका फुलफॉर्म  Border Gateway Protocol है यह एक external gateway protocol है जो इंटरनेट पर autonomous systems के बीच Routing और Reachability की जानकारी का आदान-प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

बॉर्डर गेटवे प्रोटोकॉल (BGP) एक प्रकार से इंटरनेट की डाक सेवा है। जब कोई किसी पत्र को मेलबॉक्स में छोड़ता है, तो डाक सेवा उस पत्र को संसाधित करती है और उस पत्र को उसके प्राप्तकर्ता तक पहुंचाने के लिए एक तेज, कुशल मार्ग को चुनती है। इसी तरह BGP प्रोटोकॉल नेटवर्क में ट्रांसमिट होने वाले डाटा पैकेट्स के लिए सबसे अच्छे रास्ते को चुनता है

अगर देखा जाये तो BGP ही वह प्रोटोकॉल है जिससे  इंटरनेट काम करता है। यह इंटरनेट पर Data Routing को इनेबल करता है। जब सिंगापुर में बैठा कोई एक यूजर इंडिया के किसी मूल सर्वर के साथ एक वेबसाइट को लोड करता है, तो BGP वह प्रोटोकॉल है जो उस  Communication को जल्दी और कुशलता से करने में सक्षम बनाता है।

OSPF और BGP प्रोटोकॉल में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की OSPF और BGP प्रोटोकॉल किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको OSPF और BGP प्रोटोकॉल के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी OSPF और BGP प्रोटोकॉल क्या होता है और इसमें क्या अंतर है में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO OSPF BGP
1. OSPF का फुल फॉर्म Open Shortest Path First होता है। BGP का फुलफॉर्म Border Gateway Protocol होता हैं।
2. नेटवर्क में OSPF प्रोटोकॉल को इम्प्लीमेंट करना काफी आसान है। BGP को इम्प्लीमेंट करना थोड़ा डिफिकल्ट हैं।
3. OSPF एक तीव्र concurrence है। BGP एक धीमी concurrence है।
4. OSPF एक प्रकार से Hierarchical Network Topology या डिज़ाइन है। BGP एक प्रकार से mesh topology या डिज़ाइन है।
5. OSPF को Internal Gateway Protocol भी कहा जाता है। BGP को external gateway protocol कहा जाता है।
6. OSPF में internet protocol इस्तेमाल किया जाता है। BGP में  Transmission control protocol इस्तेमाल होता है.
7. OSPF पोर्ट नंबर 89 पर काम करता है। BGP प्रोटोकॉल 179 port number पर काम  करता है।
8. OSPF एक Link State प्रोटोकॉल है। BGP एक Vector State प्रोटोकॉल है।
9. OSPF में  Dijkstra algorithm का इस्तेमाल होता हैं। BGP में Best path algorithm इस्तेमाल की जाती है।
10. OSPF Fastest Path के बजाय Shortest Path को चुनता है। BGP नेटवर्क में सबसे अच्छे रास्ते को चुनता है।

Conclusion

इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between OSPF and BGP in Hindi की OSFP और BGP Protocol के बीच में क्या अंतर होता हैं?इसके साथ ही हमने OSFP और BGP Protocol किसे कहते है इसको भी अच्छे से समझा।

Related Differences:

Difference Between EIGRP and OSPF in Hindi

Difference Between RIP and OSPF in Hindi

Difference Between Distance Vector Routing and Link State Routing in Hindi

Difference Between Static and Dynamic Routing in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here