Cyber Bullying क्या है और साइबर बुलिंग से कैसे बचें?

दोस्तों आज हम जानेगे की साइबर बुलिंग क्या है और खुद को Cyber Bullying से कैसे बचाएं?आजकल सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट्स पर साइबर बुलिंग सबसे आम साइबर खतरों में से एक है, जिसका समाना युवाओं से लेकर बच्चे  तक हर रोज कर रहे है। साइबर बुलिंग एक ऐसा साइबर अपराध है जो आजकल की इस डिजिटल दुनियाँ में किसी के साथ हो सकता है , लेकिन साइबर क्राइम्स के बारे में जानकारी के आभाव के कारण इसकी चपेट में सबसे ज़्यदा बच्चे आते हैं ?

Cyber Bullying क्या है और साइबर बुलिंग से कैसे बचें?

कभी-कभी  शुरू में हमें यह भी एहसास नहीं होता है कि कोई हमारें साथ ऑनलाइन बदमाशी (Bullying) कर रहा है? बदमाशी (Bullying)  करने वाला एक ज्ञात व्यक्ति, दोस्त, रिश्तेदार या यहां तक कि एक अज्ञात व्यक्ति हो भी सकता है जिसे हम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म या गेमिंग पोर्टल पर ऑनलाइन मिलाकर उसको फ्रेंड बना लेते है । साइबर बुलिंग में  वह आपको गंदे मैसेज, सीधे धमकी या आपके खिलाफ कोई शर्मनाक अफवाह फैला सकता है |

क्या होता है सोशल मीडिया साइबर अपराध और इससे कैसे निपटना चाहिए? 

Internet Par Online Surakshit Kaise Rahe Top Internet Safety Rules

Cyber Bullying क्या है और साइबर बुलिंग से कैसे बचें?

साइबर बुलिंग का  दो शब्दो से मिलकर बना है जिसमे साइबर मतलब की इंटरनेट कम्पुयटर, मोबाइल टेक्नोलॉजी और बुलिंग का मतलब परेशान करना, भयभीत करना या डरा धमका कर काम करवाना। मतलब Social Media पर किसी को जानबूझकर परेशान या धमकाने वाले मैसेज , कमैंट्स  और Image  / Video  भेजकर किसी को जानबूझकर परेशान करना या धमकाने के लिए इंटरनेट या मोबाइल तकनीक का उपयोग करना। एक धमकाने वाला व्यक्ति दूसरों को धमकाने के लिए टेक्स्ट मैसेज, ईमेल, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, वेब पेज, चैट रूम आदि का उपयोग कर सकता है।

इंडिया में साइबर क्राइम की शिकायत कैसे और कहाँ करें ?

साइबर बुलिंग का बुरा प्रभाव बच्चों के जीवन पर पड़ता है खास कर उनके शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक रूप से भी बुरा प्रभवा पड़ता है।  साइबर बुलिंग करने वाले व्यक्ति की पहचान शुरुवात में तो नहीं होती पर ये जानकार और अनजान व्यक्ति भी हो सकते है जैसे।  Cyber Bullying क्या है?  इसके बारे में तो हम जान गए है अब बात आती है की Cyber Bullying से कैसे बचा जाये ?

आप खुद को Cyber Bullying से कैसे बचा सकते हैं?

  • Social Media Platform पर किसी भी Unknown Person की Friend Request को Accept न करें | नियम के अनुसार तो केवल उन लोगों के साथ ही सोशल मीडिया पर दोस्ती रख्खे , जिन्हें आप ऑफ़लाइन जानते हैं |
  • Social Media Platform पर कभी भी किसी के साथ अपनी Personal Information जैसे की Date of Birth Phone Number को Share न करें। आप Social Media की Privacy Setting में जाकर वहां पर यह Select कर सकते है की कौन कौन आपके Post को सोशल मीडिया पर देख सकता है।
  • याद रखें कि आप जो ऑनलाइन पोस्ट करते हैं वह वहीं रहता है इसलिए सावधान रहना महत्वपूर्ण है और अपने फोन नंबर और अन्य व्यक्तिगत विवरणों को टिप्पणियों या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट करने के लिए साझा न करें।
  • अपने मोबाइल या कंप्यूटर में  Unwanted सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन जैसे की Dating App, Online Game को कभी भी Unknown Source से Install न करें।
  • यदि आपको कोई भद्दे मैसेज भेजे  तो आक्रामक उत्तर के साथ प्रतिक्रिया न करें। ऐसा करने से बदमाशी करने वाला यक्ति प्रोत्साहित होकर ऐसे मैसेज करना जारी रखेगा।  यदि ऐसे Harmful मैसेज आपके फ्रेंड द्वारा भेजा    गया हो तो आप पहले उससे Request करें की वह ऐसा दोबारा न करें।  अगर वह इसके बाद भी आपको गंदे सन्देश भेजना जारी रख्खे तो तुरंत इसके सूचना अपने Parents को दें ताकि वह आपकी मदद कर सके ?
  •  फेसबुक पर भेजी गई पोस्ट्स को रिमूव करना बेहद मुश्किल होता है। इसलिए फेसबुक का इस्तेमाल बेहद सावधानी और सजगता से करना चाहिए। भारत में ज्यादातर बच्चे फेसबुक के जरिए ही साइबर बुलिंग का शिकार होते हैं।

इण्डिया में साइबर क्राइम करने पर कानून और सजा ?

यदि आपके साथ कोई Cyber Bullying कर रहा है तो क्या करें?

यदि आपको सोशल मीडिया पर कोई परेशान कर रहा है या आप Cyber Bullying का शिकार है तो नीचे दिए गए सुझाव Situation को Manage करने में सहायक हो सकते हैं।

Inform your parents/Elders Immediately

यदि आपको सोशल मीडिया पर परेशान किया जा रहा है तो  तुरंत इसकी जानकरी अपने पैरेंट्स को दें।  कभी भी यह न सोचे की अगर यह अपने पेरेंट्स से शेयर करेंगे तो वह आपके कंप्यूटर, मोबाइल इस्तेमाल करने पर पाबन्दी लगा देंगे ऐसा कभी न सोचे। उन्हें सूचित करना महत्वपूर्ण है ताकि वे समय पर आपकी मदद और मार्गदर्शन कर सकें। पूरे मामले को स्पष्ट रूप से अपने माता-पिता को बताएं।

Identify the Bully

यह जानने की कोशिश करें कि क्या धमकाने वाला व्यक्ति आपका जानने वाला है या कोई अजनबी व्यक्ति है और वह आपको क्यों  परेशान कर रहा है। आप धमकाने तक पहुंचने के लिए अपने माता-पिता या दोस्तों की मदद ले सकते हैं और उसे आपको धमकाने से रोकने के लिए कह सकते हैं।

Block the Bully

यदि आपको परेशान करने वाला व्यक्ति सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहा है तो आप उसे ब्लॉक कर सकते है।  सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर किसी भी Users को ब्लॉक करने सुबिधा उपलब्ध है।

Collect and Save Post/Message

यदि Bully आपके Against सोशल मीडिया पर कोई पोस्ट डाल रहा हो य आपको मैसेज कर रहा हो तो उन पोस्ट और मैसेज को Evidence के लिए अपने पास सुरक्षित Save कर ले ताकि आप उसके खिलाफ कानूनी एक्शन ले सके।

Never Respond to a Bully Aggressively

यदि आपको किसी भी प्रकार का ऐसा सन्देश प्राप्त होता है या सोशल साइट पर ऐसी पोस्ट आती है जिससे आप क्रोधित हो सकते है तो ऐसे किसी भी पोस्ट या सन्देश का उत्तर न दे।

Contact Local Police

यदि आपके बार बार माना करने के बावजूद भी वह आपको परेशान कर रहा है और आपको सोशल साइट पे डराने, धमकाने या भयभीत करने से सम्बंधित सन्देश या पोस्ट आते है, तो इसकी सूचना निकटतम पुलिस स्टेशन में जा कर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराये।

अब अश्लील मैसेज भेजने से होगा आजीवन कारावास और 10 लाख का जुर्माना

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट से हमने जाना की Cyber Bullying क्या है और साइबर बुलिंग से कैसे बचें? और साथ ही यदि आपके साथ कोई Cyber Bullying कर रहा है तो क्या करें? दोस्तों हमें उम्मीद है की आज की यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयी होगी।

Leave a Reply