What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है ?

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम जानेगे की What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है ? अगर आप Networking कर रहे हो और Networking Field में अपना Career बनाना चाहते हो तो IP Addressing क्या है ? इस चीज को समझना आपके लिए बहुत ही ज़रूरी है क्योकि  सारा Internet IP Protocol पर ही काम करता है | चलिए दोस्तों हम समझने की कोशिश करते है की What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है ?

What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है

What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है ?

IP Addressing  Network में डिवाइस या होस्ट को एड्रेस असाइन करने की एक विधि है, IP अन्य Device के साथ Communication करने के लिए एक नेटवर्क में Host की एक Unique Identification है। IP Address एक Address होता है जिसमें किसी खास होस्ट तक पहुंचने की जानकारी होती है, खासकर LAN के बाहर। IP एड्रेस 32 बिट का एक  यूनिक एड्रेस होता है, Unique Address के माध्यम से Hosts को Uniquely Identify किया जाता है। Addressing 2 प्रकार की होती है Hardware Addressing और Logical Addressing जिन्हे हम Details में नीचे समझेंगे |

What is Routing Information Protocol in Hindi-RIP Protocol क्या हैं ?

1. Hardware Addressing

Hardware Address को MAC (Media Access Control) Address भी कहते है। MAC address  एक Unique Identification Number है जो LAN (Local Area Network)  में डिवाइस को Represent करता है।  MAC address  Device का Permanent  Address होता है जो कभी Change नहीं होता है |

MAC address  Device के NIC (Network Interface card)  में Code होता  है। इसका उपयोग Network Segment की Data Link Layer पर Communication करने के लिए किया जाता है। MAC address NIC (Network Interface card) manufacturer द्वारा Manufacture किया जाता हैं , MAC address 48 bits का होता है और यह एक Hexadecimal form में Represent किया जाता है जो Colon (:) द्वारा Separated होता है | इसका एक उदाहरण नीचे दिया गया  है।

Example  –  34:23:87:65:C2:8F

MAC Address की पहली 6 Digits से NIC (Network Interface Card) के Manufacturer को Identify किया जाता है। इन शुरुआती 6 bits को OUI (Organizational Unique Identifier) भी कहते है। बाकी की 6 Digits Host को Network में Uniquely Identify करने के लिए यूज़ की जाती है। इन last 6 digits को Host ID कहते है।

MAC address is used by below technologies:

  • Ethernet
  • 11 WiFi
  • ATM network
  • Token Ring
  • Bluetooth
  • FDDI

What is Telnet Protocol in Hindi-Telnet क्या हैं ?

2. Logical Addressing

Logical addressing   नेटवर्क में होस्ट की पहचान करने करने के लिए की जाती  है | OSI Model की Network Layer पर Logical Address की जाती है  Logical addresses एक network को दूसरे network से separate भी करते है। Logical addresses fix नहीं होते है इन्हे change भी किया जा सकता है। Logical addresses को IP address कहते है।

IP address दो पार्ट में divide होता है एक पार्ट network को बताता है तथा दूसरा होस्ट को| किसी भी IP का Network part network में हमेशा same होता है लेकिन host part सबका अलग अलग होता है | IP address की size 32 bit होती है।  IP address दो तरह के होते है जिन्हे डिटेल्स में नीचे बतया गया है |

What is SSL Protocol in Hindi-SSL प्रोटोकॉल क्या है ?

1.IPv4

Internet Protocol version4 यह एक 32 का IP Address होता है इसको Decimal format me में लिखा जाता है और अभी इसी का इस्तेमाल  ज्यादा किया जाता है

Example- 192.168.1.1 ,       10.0.0.1 ,      172.164.0.1

IPv4 को 5 classes में divide किया गया है इसकी Range 0.0.0.0 से लेकर 255.255.255.255 तक होती है

Classes of IPv4 address

IP Class First Octet Range Default Sub netmask
Class A 1-127 255.0.0.0
Class B 128-191 255.255.0.0
Class C 192-223 255.255.255.0
Class D 224-239 Reserved for Multicast
Class E 240-255 Reserved for R & D


2. IPv6

Internet के यूजर दिनों दिन बढ़ते जा रहे है और इन्टरनेट एक्सेस करने के लिए divice को IP address की आवश्कता होती है अभी तो IPv4 सभी को IP provide करने के लिए capable है लेकिन इसमें कुछ  limitation है जिसिसे future में IP से related problems आ सकती है इसीलिए IPv6 को designed किया गया है  यह 128 बिट एड्रेस होता है इसको Hexadecimal format me में लिखा जाता है. यह IPv4 का latest version है

Example FEDC:BA98:7654:3210:FEDC:BA98:7654:3210

What is difference between IPv4 and IPv6 in hindi

IPv4 IPv6
1.यह 32 का IP address होता 1. यह 128 का IP address होता
2.इसकों Decimal में लिखा जाता है 2.इसकों Hexadecimal में लिखा जाता है
3.इसमें Fragmentation Sender और तथा forwarding router दोनों के द्वारा की जाती है 3.इसमें Fragmentation केवल Sender के द्वारा की जाती.
4.इसकी सुरुआत 1981  में हुयी थी 4.इसकी सुरुआत 1999  में हुयी थी

What is Subnet Mask in Hindi

एक Sub network या Subnet  एक आईपी नेटवर्क का एक logical subdivision  है। एक नेटवर्क को दो या अधिक नेटवर्क में विभाजित करने की Practice को Subnetting  कहा जाता है। जैसा की मैने आपको पहले बताया की IP Address का एक Part तो Network को बताता है और दूसरा Part Host को बताता है। Subnet Mask यही बताने के लिए होता है की पुरे IP Address का कौनसा Part Network को Represent करता है और कौनसा Host को Represent करता है। हर IP Address के साथ उसका Subnet Mask जुड़ा होता है। जिसे देख कर बताया जा सकता है की IP Address किस Network और किस Host का है।

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने सीखा की What is IP addressing in Hindi-IP Addressing क्या है ? What is difference between IPv4 and IPv6 in hindi और Subnet Mask क्या होता है ?  Hardware Addressing और Logical Addressing  क्या होती है इसके बारे में भी Details में जाना | दोस्तों मुझे आशा है की आज की यह पोस्ट आपको ज़रूर पसंद आयी होगी |

Leave a Reply

error: Content is protected !!