Difference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in Hindi में जानेंगे की Fiber और Coaxial Cable के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in HindiDifference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in Hindi

कंप्यूटर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक  डिवाइस सिग्नल के रूप में और एक ट्रांसमिशन मीडिया का उपयोग करके डेटा को एक से दूसरे डिवाइस में ट्रांसमिट करते हैं। ट्रांसमिशन मीडिया को मौलिक रूप से दो प्रकारों Guided और Unguided Media के रूप में निर्देशित किया जा सकता है।

Unguided Media में वायरलेस ही विद्युत चुम्बकीय तरंगों के माध्यम से  बिना किसी फिजिकल वायर के ही डाटा को ट्रांसमिट किया जाता है जबकि Guided media में नेटवर्क में इनफार्मेशन को ट्रांसमिट करने के लिए किसी Physical medium मतलब केबल्स की आवश्यकता होती है।

Guided Media में तीन तरह की Cable का इस्तेमाल किया जाता है Twisted pair cable, coaxial cable और Fibre-optic cable इस पोस्ट में हम Fibre-optic cable और coaxial cable के बीच में अंतर के बारे जानेंगे।

Fibre-optic cable और coaxial cable के बीच अगर मुख्य अंतर की बात करे तो ऑप्टिकल फाइबर केबल लाइट के रूप में सिंग्नल्स को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में ट्रांसफर करता है वही एक Coaxial cable विद्युत रूप में Signals को ट्रांसमिट करता है।

What is Optical Fibre Cable in Hindi-ऑप्टिकल फाइबर केबल किसे कहते है?

जैसा की मैंने आपको ऊपर बताया की ऑप्टिकल फाइबर एक प्रकार का Guided Media है। यह ग्लास, सिलिका और प्लास्टिक से बना होता है और इस Cable में सिग्नल  प्रकाश के रूप में  ट्रांसमिट होते हैं। ऑप्टिकल फाइबर चैनल के माध्यम से प्रकाश का मार्गदर्शन करने के लिए Internal Reflection के सिद्धांत का उपयोग करता है।

आमतौर पर Optical Fibre Cable का इस्तेमाल Long Distance में हाई परफॉरमेंस के साथ डेटा को ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है क्योकि वायर्ड कॉपर केबलों की तुलना में, फाइबर ऑप्टिक केबल उच्च बैंडविड्थ प्रदान करते हैं और लंबी दूरी पर डेटा को ट्रांसमिट करता हैं। आज के समय में इंटरनेट का इस्तेमाल फाइबर ऑप्टिक केबल के माध्यम से ही सम्भव है इसके द्वारा ही एक देश दूसरे देश से कनेक्ट है।

फाइबर ऑप्टिक केबल में कांच के एक या एक से अधिक स्ट्रैंड होते हैं, जिनमें से प्रत्येक स्ट्रैंड एक मानव बाल की तुलना में थोड़ा मोटा होता है। प्रत्येक स्ट्रैंड के केंद्र को कोर कहा जाता है, जो प्रकाश की यात्रा के लिए मार्ग प्रदान करता है। कोर कांच की एक परत से घिरा हुआ होता है जिसे क्लैडिंग कहा जाता है जो सिग्नल को लॉस होने से बचने के लिए प्रकाश को अंदर की ओर प्रतिबिंबित करता है।

ऑप्टिकल फाइबर केबल भी दो प्रकार single mode और  multi-mode की होती है। सिंगल-मोड फाइबर प्रकाश उत्पन्न करने के लिए बेहद पतले ग्लास स्ट्रैंड और एक लेजर का उपयोग करता है, जबकि मल्टी-मोड ऑप्टिकल फाइबर केबल एलईडी का उपयोग करते हैं।

Advantages and Disadvantages Optical Fibre in Hindi– अब हम Optical Fibre Cable से होने वाले फायदे और नुकशान के बारे में जानेंगे।

Advantages 

  • Noise resistance- फाइबर ऑप्टिक केबल बिजली के बजाय प्रकाश का उपयोग करता है इसलिए इसमें Noise का issue नहीं होता।
  • Less attenuation – ऑप्टिकल फाइबर केबल में सिग्नल को Regenerate किये बिना ही डेटा को मीलों तक ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • Higher bandwidth – फाइबर-ऑप्टिक केबल उच्च बैंडविड्थ ले जा सकता है।
  • Speed- यह हाई स्पीड में डेटा  को ट्रांसमिट करता है।
  • यह पावर को कम Consume करती है।
  • यह काफी Flexible और lightweight होती है।

Disadvantages 

Cost ऑप्टिकल फाइबर काफी महँगी होती है।

Installation and maintenance -ऑप्टिकल फाइबर का एक टूटा हुआ कोर प्रकाश को फैला सकता है और सिग्नल को बंद कर सकता है। फाइबर ऑप्टिक केबल को काटने और उसे जोड़ने के लिए कुछ खाश प्रकार के उपकरणों का उपयोग करता है, इसलिए इस केबल को मैनेज करना और इनस्टॉल करना अधिक कठिन हो जाता है।

What is Coaxial Cable in Hindi-Coaxial केबल किसे कहते है?

Coaxial cable भी ट्रांसमिशन मीडिया का एक प्रकार है जिसका उपयोग आमतौर पर ऑडियो/वीडियो कम्युनिकेशन के लिए किया जाता है। इस केबल में उच्च बैंडविड्थ और अधिक transmission capacity होती  है। Coaxial cable का सबसे ज़्यदा इस्तेमाल टीवी को DTH service से कनेक्ट करने के लिए किया जाता है।

हालांकि, इन केबलों का उपयोग कंप्यूटर नेटवर्किंग में भी किया जाता है और एक केबल मॉडेम का उपयोग करके ब्रॉडबैंड केबल इंटरनेट कनेक्शन की अनुमति देता है। Coaxial cable के द्वारा Analog और डिजिटल दोनों तरह के सिग्नल्स को ट्रांसमिट किया जा सकता है।

Optical Fibre Cable और Coaxial Cable में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की Optical Fibre Cable और Coaxial Cable किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Optical Fibre Cable और Coaxial Cable के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी Optical Fibre Cable और Coaxial Cable क्या होता है और इसमें क्या अंतर है में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO OPTICAL FIBER COAXIAL CABLE
1. ऑप्टिकल फाइबर केबल में सिग्नल को प्रकाश के रूप में ट्रांसमिट किया जाता है। Coaxial Cable में सिग्नल्स electrical form में ट्रांसमिट किये जाते है।
2. ऑप्टिकल फाइबर केबल प्लास्टिक और ग्लास से बानी होती है। Coaxial Cable प्लास्टिक, तांबे के तारों आदि से बनी होती है।
3. ऑप्टिकल फाइबर केबल काफी कुशल है। Coaxial Cable कम कुशल है।
4. यह केबल काफी महगी होती है। यह केबल सस्ती होती हैं।
5. ऑप्टिकल फाइबर केबल वजन में काफी हल्की होती है। यह केबल वजन में भारी होती है।
6. ऑप्टिकल फाइबर का व्यास छोटा होता है। Coaxial cable का व्यास ऑप्टिकल फाइबर से बड़ा होता है।
7. ऑप्टिकल फाइबर केबल को Install और Implement करना काफी मुश्किल है। Coaxial cable को इनस्टॉल और इम्प्लीमेंट  करना काफी आसान है।
8. ऑप्टिकल फाइबर में नॉइज़ कम होता है। इसमें थोड़ा नॉइस की दिक्क्त होती है।
9. बाहरी चुंबकीय क्षेत्र के कारण इस केबल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता। बाहरी चुंबकीय क्षेत्र के कारण इस केबल पर प्रभाव पड़ता है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in Hindi की Fiber और Coaxial Cable के बीच में क्या अंतर होता हैं और इसके साथ ही हमने Fiber और Coaxial Cable के क्या होता है इसको भी अच्छे से समझा।

ऑप्टिकल फाइबर डेटा ट्रांसमिशन गति interference resistance, dimensions, bandwidth और Noise आदि के संदर्भ में coaxial cable की तुलना में अधिक कुशल है, लेकिन coaxial cable  जो काफी सस्ती होती है और इसको इंस्टाल और इम्प्लीमेंट करना भी काफी आसान है।

Related Difference 

Difference Between Cloud Computing and Big Data in Hindi

Difference Between Firewall and Proxy Server in Hindi

Difference Between LAN and VLAN in Hindi

Difference Between Subnetting and Supernetting in Hindi

Ravi Girihttp://hinditechacademy.com/
नमस्कार दोस्तों, मै रवि गिरी Hindi Tech Academy का संस्थापक हूँ, मुझे पढ़ने और लिखने का काफी शौख है और इसीलिए मैंने इस ब्लॉग को बनाया है ताकि हर रोज एक नयी चीज़ के बारे में अपने ब्लॉग पर लिख कर आपके समक्ष रख सकू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,566FansLike
823FollowersFollow

Must Read