ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है और इससे कैसे बचे?

पिछले दस वर्षों में जिसने भी ऑनलाइन गेम खेला है, उसे खेल से संबंधित अपराध का अनुभव होगा,अगर आप ऑनलाइन गेम खेलते है और आपको नहीं पता की ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है तो आज की इस पोस्ट को पढ़कर आप भी जान सकते हैं की ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है और इससे कैसे बचे?

Cyber Grooming क्या हैं और अपने बच्चों को इससे कैसे बचाये?

ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है और इससे कैसे बचे?

आप को सुनकर भले ही आश्चर्य लगे की Online Gaming  साइबर सिक्योरिटी से कैसे संबधित है? आजकल बच्चे और युवा Online Game खेलना ज़्यदा पसंद कर रहे हैं। Online Game खेलने वालो की संख्या भविष्य में और भी कई गुना बढ़ने जा रही है। जहां कभी भी इंटरनेट पर बहुत सारे उपयोगकर्ता होते हैं, साइबर अपराधी उन्हें  परेशान करने के लिए अपना रास्ता ढूंढ लेते हैं। यह धोखाधड़ी, साइबर बुलिंग Sharing inappropriate आदि के रूप में हो सकता है।

Cyber Bullying क्या है और साइबर बुलिंग से कैसे बचें?

ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है और इससे कैसे बचे

आजकल की Advanced Technology ने ऑनलाइन गेम को और भी रोमांचक बना दिया है और इसलिए अधिक से अधिक लोग ऑनलाइन गेम खेलना पसंद कर रहे हैं | आज आप बड़ी आसानी से विभिन्न प्रकार के प्लेटफ़ॉर्म जैसे की कंप्यूटर, पोर्टेबल गेमिंग डिवाइस और सोशल नेटवर्क पर ऑनलाइन गेम खेल सकते है | ऑनलाइन गेम आप न केवल ऑनलाइन करोड़ों उपयोगकर्ताओं के साथ खेल खेलते हैं, बल्कि उनसे साथ बात भी करते हैं, अपने  विचार साझा करते हैं, उनको Friend बना सकते है या एक प्लेयर्स का ग्रुप बना सकते है।

इंडिया में साइबर क्राइम की शिकायत कैसे और कहाँ करें ?

क्या आप जानते हैं कि ऑनलाइन गेमिंग से जुड़े जोखिम क्या हैं?

  • ऑनलाइन कई आक्रामक खिलाड़ी हैं जो आपको धमका सकते हैं। कुछ खिलाड़ी बस दूसरों को धमकाने या परेशान करने के लिए खेलते हैं। वे अनुचित भाषा का उपयोग कर सकते हैं या दूसरों को धोखा दे सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप सावधान रहें।
  • कई वयस्क और साइबर अपराधी ऑनलाइन गेम भी खेलते हैं और बच्चे होने का दिखावा करते हैं। हो सकता है कि वह आपको गेम के बारे में टिप्स दे कर आपसे दोस्ती करने की कोशिश करे, आपके साथ पॉइंट शेयर करे और आपके भरोसे को जीतने की कोशिश करे। वे इस अवसर का उपयोग व्यक्तिगत जानकारी प्राप्त करके या आपके साथ मिलने के लिए प्रेरित करे  और वह आपके साथ कोई Scam करने के कोशिश करें ?
  • कई मुफ्त ऑनलाइन गेमिंग वेबसाइट हैं। वह आपको एक दिलचस्प ऑनलाइन गेम डाउनलोड करने के लिए ईमेल या Text Message द्वारा आपको लिंक भेजते है, कुछ ऑनलाइन गेमिंग वेबसाइट Account बनाने से पहले आपके के बारे में बहुत सारी व्यक्तिगत जानकारी पूछते हैं। इससे आपकी व्यक्तिगत जानकारी जैसे आपका नाम, आयु, मोबाइल नंबर आदि का दुरुपयोग हो सकता है। असुरक्षित साइटों से डाउनलोड किए गए मुफ्त ऑनलाइन गेम के साथ आप वायरस या मैलवेयर डाउनलोड कर सकते हैं जो आपके कंप्यूटर, स्मार्ट फोन या अन्य गेमिंग डिवाइस को संक्रमित कर सकते हैं।

अपने आप को ऑनलाइन गेम साइबर क्राइम से सुरक्षित कैसे करें?

अगर आप भी Online Game खेलने का शौक रखते है  तो आपको जागरूकता और सावधानियों के बारे में जरूर सोचना चाहिए,  चिंता न करें नीचे दी गयी कुछ बातो को ध्यान में रखते हुएआप सुरक्षित ऑनलाइन गेम खेल सकते हैं। ऑनलाइन गेम से जुड़े संभावित जोखिमों से खुद को और अपने दोस्त को बचाने के लिए आपको सावधानी बरतने और सुरक्षा का पालन करने की आवश्यकता है।

  • ऑनलाइन गेम खेलते समय किसी भी प्लेयर्स के साथ अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे डेट ऑफ बर्थ, एड्रेस और फोन नंबर साझा करें। आप नहीं जानते कि खिलाड़ी कौन हैं और उनकी मंशा क्या है? हो सकता है की आप अपनी जानकारी किसी स्कैमर या साइबर बुलियों के साथ शेयर कर रहे हो ।
  • जब आप ऑनलाइन गेम खेल रहे हों तो अपने माता-पिता के डेबिट / क्रेडिट कार्ड का विवरण कभी भी किसी के साथ साझा न करें। कुछ साइबर अपराधी गेम खेलने या अंक साझा करने में मदद करने के लिए कह सकते हैं और वे आपका विश्वास जीत सकते हैं और बाद में Coin/ Points आदि खरीदने के लिए वे क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड की डिटेल्स पूछ सकते हैं।
  • कभी भी मुफ्त ऑनलाइन गेमिंग वेबसाइट से डाउनलोड किए गए गेम जिनके बारे में आप ज़्यदा नहीं जानते हैं उनको अपने लैपटॉप या मोबाइल में Install न करें । कभी भी मेल या टेक्स्ट संदेश पर प्राप्त लिंक पर क्लिक करके गेम डाउनलोड न करें। मेल या टेक्स्ट संदेश पर प्राप्त लिंक वायरस और मैलवेयर हो सकते हैं जो आपके कंप्यूटर या स्मार्ट फोन की सुरक्षा को खतरे में डाल सकते हैं।
  • हमेशा अपने कंप्यूटर, स्मार्टफोन या अन्य डिवाइसों पर अच्छे एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर को ज़रूर इनस्टॉल करें। एंटीवायरस और अन्य एप्लिकेशन को नियमित रूप से अपडेट भी करते रहना चाहिए।
  • अपना पासवर्ड कभी भी किसी के साथ साझा न करें, हमेशा आपको अपने ऑनलाइन गेमिंग Account  और अन्य ऑनलाइन Accounts के लिए एक Complex Password का उपयोग करना चाहिए। और नियमित अंतराल पर अपना पासवर्ड बदलते रहना चाहिए।
  • ऑनलाइन गेम खेलते समय कभी भी वॉइस चैट या वेब कैम का उपयोग न करें, यह आपकी पहचान को अन्य खिलाड़ी के साथ साझा कर सकता है।
  • अपने ऑनलाइन गेमिंग दुनिया के किसी व्यक्ति के साथ कभी न मिलें। वास्तविक जीवन में वे बहुत भिन्न हो सकते हैं। साइबर अपराधी आपसे दोस्ती कर सकते हैं और आपसे मिलने या आपकी व्यक्तिगत जानकारी प्राप्त करने का प्रयास कर सकते हैं। उनका गलत इरादा हो सकता है।
  • यदि आप ऑनलाइन गेमिंग दुनिया में किसी भी चुनौती का सामना करते हैं, तो तुरंत अपने माता-पिता या बड़ों को सूचित करें ताकि वे आपका समर्थन और मार्गदर्शन कर सकें।

इण्डिया में साइबर क्राइम करने पर कानून और सजा ?

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने जाना की ऑनलाइन गेमिंग साइबर क्राइम क्या है और इससे कैसे बचे? ऑनलाइन गेमिंग से जुड़े जोखिम क्या हैं? और अपने आप को ऑनलाइन गेम साइबर क्राइम से सुरक्षित कैसे करें?  दोस्तों मुझे उम्मीद है की आज की यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयी होगी?

Leave a Reply