Difference Between GPS and GPRS in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between GPS and GPRS in Hindi में जानेंगे की GPS और GPRS के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between GPS and GPRS in HindiDifference Between GPS and GPRS in Hindi

GPS जिसका पूरा Global Positioning System है। जबकि GPRS का मतलब General Packet Radio Service है। जीपीएस और जीपीआरएस समान शब्द लगते हैं लेकिन दोनों Technology का इस्तेमाल अलग-अलग कामो के लिए किया जाता हैं।

अगर GPS और GPRS के बीच के मुख्य अंतर की बात करे तो  GPS का उपयोग Satellite आधारित नेविगेशन सिस्टम, मैपिंग के साथ-साथ GIS आदि के लिए किया जाता है जबकि GPRS का उपयोग वीडियो कॉलिंग, ईमेल एक्सेसिंग, मल्टीमीडिया मैसेजिंग आदि के लिए किया जाता है।

इसके आलावा भी GPS और GPRS में काफी अंतर होते है जिनको हम Difference Table के माध्यम से नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम GPS और GPRS टेक्नोलॉजी को और अच्छे से समझ लेते है।

What is GPS system in Hindi-GPS system क्या होता है?

GPS (Global Positioning System) सैटेलाइट पर आधारित एक पोजिशनिंग सिस्टम है इस समय इसका इस्तेमाल हर किसी के द्वारा किया जा रहा है GPS System दुनिया भर में सैन्य, नागरिक और कमर्सिअ  उपयोगकर्ताओं को महत्वपूर्ण सर्विस प्रदान करती है।

GPS के द्वारा कोई भी किसी देश के मौसम, टाइम और लोकशन के बारे में घर बैठे पता कर सकता है इसके द्वारा कभी भी दुनिया में कहीं की स्थिति की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। GPS नेटवर्क पृथ्वी पर किसी वस्तु की सटीक स्थिति निर्धारित करने के लिए Satellite का उपयोग करता है।

GPS तीन अलग-अलग कम्पोनेंट्स से मिलकर बना होता है जिन्हें सेगमेंट कहा जाता है, जो लोकेशन की जानकारी देने के लिए एक साथ काम करते हैं।

  • Space (Satellites) —पृथ्वी की परिक्रमा करने वाले सैटेलाइट्स  भौगोलिक स्थिति और समय के बारे में उपयोगकर्ताओं को सिग्नल्स ट्रांसमिट करते हैं।
  • Ground control – कंट्रोल सेगमेंट पृथ्वी-आधारित मॉनिटर स्टेशनों, मास्टर कंट्रोल स्टेशनों और ग्राउंड एंटीना से बना है।
  • User equipment- GPS रिसीवर और ट्रांसमीटरों जिसमें स्मार्टफोन और टेलीमैटिक डिवाइस जैसे आइटम शामिल हैं।

आज के समय में GPS हर जगह है। आप अपनी कार, अपने स्मार्टफोन और अपनी घड़ी में GPS System पा सकते हैं। GPS आपको उस स्थान पर पहुंचने में मदद करता है जहाँ आप जा रहे हैं। GPS के पाँच मुख्य उपयोग हैं जो निम्नलिखित है। :

  • Location — Determining a position.
  • Navigation — Getting from one location to another.
  • Tracking — Monitoring object or personal movement.
  • Mapping — Creating maps of the world.
  • Timing — Making it possible to take precise time measurements

What is GPRS system in Hindi-GPRS system क्या होता है?

General Packet Radio Service (GPRS) टेक्नोलॉजी मोबाइल नेटवर्क में इस्तेमाल की जाने वाली सबसे लोकप्रिय सेलुलर सिस्टम है जो डेटा सर्विस प्रदान करता है। GPRS को मोबाइल और दूरसंचार के 2.5 जेनरेशन के रूप में भी जाना जाता है। यह Internet Protocol (IP) और Point-To-Point Protocol (PPP) दोनों प्रोटोकॉल  को सपोर्ट करता है

GPRS 2G GSM सेलुलर फोन द्वारा उपयोग की जाने वाली डेटा ट्रांसमिशन तकनीक है यह 3G या 4G  की तुलना में अपेक्षाकृत धीमी दर डेटा स्पीड प्रदान करता है।

GPRS के द्वारा कुछ जो महत्वपूर्ण सर्विस प्रदान की जाती है वह निम्नलिखित है।

  • SMS messaging and broadcasting
  • Push-to-talk over cellular
  • Instant messaging and presence
  • Multimedia messaging service
  • Point-to-Point and Point-to-Multipoint services

Difference Between GPS and GPRS in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की GPS और GPRS किसे कहते है? अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपकोGPS और GPRS के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी GPS और GPRS में कोई confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

BASIS FOR COMPARISON GPS GPRS
Stands for  GPS का फुलफॉर्म Global Positioning System होता है। GPRS का फुलफॉर्म General Packet Radio Service होता है।
Purpose नेविगेशन सिस्टम, मैपिंग आदि की सर्विस प्रदान करता है। मोबाइल फोन में उपयोग की जाने वाली Voice और डेटा सेवाएं प्रदान करता है।
Application Navigation, surveying, mapping, GIS, etc. Email accessing, multimedia messaging, video calling, etc.
Working GPS सॅटॅलाइट के साथ कम्युनिकेशन करता है जो पृथ्वी की परिक्रमा करता है। GPRS  एक स्थलीय टॉवर के साथ संचार करता है।
Number of stations required 3 or more 1
Utilization GPS का उपयोग Sky, land, seas आदि कहीं भी किया जा सकता है। GPRS का उपयोग केवल जमीन पर किया जा सकता है।
Cost Expensive Economic

Conclusion

इस पोस्ट से हमने जाना Difference Between GPS and GPRS in Hindi की GPS और GPRS के बीच क्या अंतर होता हो और साथ में हमने GPS और GPRS किसे कहते है इसको भी अच्छे से जाना।

जीपीएस और जीपीआरएस दो अलग-अलग शब्द  और टेक्नोलॉजी हैं और अलग-अलग उद्देश्य से कार्य करते हैं। एक GPS Satellite पर आधारित स्थिति है जिसका इस्तेमाल navigation, surveying, mapping और GIS (Geographic information system) के लिए किया जाता है।

दूसरी तरफ, GPRS का उपयोग वायरलेस उपकरणों पर या सेलुलर नेटवर्क में उच्च डेटा दर सेवाओं (voice and data) जैसे कि मोबाइल फोन पर वास्तविक समय पर वीडियो कॉलिंग आदि को सक्षम करने के लिए किया जाता है।

Related Difference

Difference Between NAT and PAT in Hindi

Difference Between Static and Dynamic Routing in Hindi

Difference Between Telnet and FTP in Hindi

Difference Between Repeater and Amplifier in Hindi

Difference Between Optical Fibre and Coaxial Cable in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here