Difference Between NAT and PAT in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between NAT and PAT in Hindi में जानेंगे की NAT और PAT Protocol के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between NAT and PAT in HindiDifference Between NAT and PAT in Hindi

NAT और PAT एक प्रकार के प्रोटोकॉल है जो Private IP Address को Public IP Address में ट्रांसलेट करने के लिए उपयोग किये जाते है। NAT और PAT के बिना आप एक Public IP Address से सिर्फ एक ही डिवाइस पर इंटरनेट को चला सकते है अगर आप एक Public IP Address से बहुत सारी डिवाइस पर इंटरनेट को चलाना चाहते है तो उसके लिए आपको NAT और PAT प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करना ही पड़ेगा।

अगर हम NAT और PAT प्रोटोकॉल के बीच के मुख्य अंतर की बात करे तो यह है की NAT प्रोटोकॉल के द्वारा Private IP Address को Public IP Address में ट्रांसलेट किया जाता है जबकि PAT प्रोटोकॉल के द्वारा कई Private IP Address को  Port Number का उपयोग करके एक ही Public IP Address में Translate किया जाता है।

Private IP इस्तेमाल करने वाले हमारे इंटरनल नेटवर्क यूजर इंटरनेट या बाहरी नेटवर्क से कनेक्ट नहीं हो सकता है क्योंकि नेटवर्क में प्रत्येक डिवाइस का एक Unique IP Address होना चाहिए। NAT एक राउटर पर दो नेटवर्क को एक साथ जोड़ने पर काम करता है, और यह आंतरिक नेटवर्क के Private IP Address को कानूनी तौर पर Public IP Address में Translate करता है।

इसके अतिरिक्त NAT और PAT का इस्तेमाल इसलिए भी किया जाता है ताकि Public IP Address को सरक्षित किया जा सके क्योकि  इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को Public IP Address की कमी की समस्या का सामना करना पड़ रहा था, जहां इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या  Public IP Address की सीमित सीमा से अधिक बढ़ गई थी।

NAT और PAT में कुछ महत्वपूर्ण अंतर होते है जिनको हम Difference Table जे माध्यम से नीचे  जानेंगे लेकिन उससे पहले हम NAT और PAT क्या होता है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is NAT in Hindi-नेटवर्क एड्रेस ट्रांसलेशन किसे कहते है?

NAT जिसका फुलफॉर्म Network Address Translation होता है जिसके द्वारा एक Private IP Address  को Public IP Address में ट्रांसलेट किया जाता है। NAT प्रोटोकॉल को इस्तेमाल करने का मुख्य उद्देश्य एक ही Public IP Address के द्वारा एक से अधिक डिवाइस पर इंटरनेट को एक्सेस करने के लिए किया जाता है।

जैसा की हम सब जानते है की इंटरनेट को एक्सेस करने के लिए हमें Public IP Address की आवश्यकता होती हैं अब अगर नेटवर्क में 100 कंप्यूटर पर इंटरनेट को चलाना है तो इसके लिए हमें 100 Public IP Address भी लेनी पड़ेगी जो की काफी महँगी है और Public IP Addresses की संख्या भी सीमित है। इस समस्या को समाप्त करने के लिए नेटवर्क में Network Address Translation (NAT) का इस्तेमाल किया जाता है।

What is PAT in Hindi-पोर्ट एड्रेस ट्रांसलेशन किसे कहते है?

PAT जिसका फुलफॉर्म Port Address Translation है जो एक प्रकार का डायनेमिक NAT है जिसके माध्यम से IP Address  ट्रांसलेशन को पोर्ट स्तर पर कॉन्फ़िगर किया जा सकता है यह भी Port Number की मदद से आंतरिक नेटवर्क के Private IP Address को Public IP Address में ट्रांसलेट करता है।

Port Address Translation (PAT) के द्वारा हम अपने लोकल नेटवर्क में एक ही Private IP Address  को कई डिवाइस पर पोर्ट नंबर की सहायता से असाइन कर  सकते है।

Difference Between NAT and PAT in Hindi

अभी तक ऊपर हमने जाना की NAT और PAT किसे कहते है? अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको NAT और PAT  के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी NAT और PAT क्या होता है और इसमें क्या अंतर है में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

BASIS FOR COMPARISON NAT PAT
Basic यह Private IP Address को Public IP Address में ट्रांसलेट करता है। NAT के समान यह भी पोर्ट नंबरों की मदद से एक आंतरिक नेटवर्क के Private IP Address को Public IP Address में बदल देता है।
Relationship Superset of PAT. Variant of NAT (form of a Dynamic NAT).
Uses IPv4 address पोर्ट नंबर के साथ IPv4 addresses
Types Static NAT
Dynamic NAT
Static PAT
Overloaded PAT

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between NAT and PAT in Hindi की NAT और PAT Protocol के बीच में क्या अंतर होता हैं? इसके साथ ही हमने NAT और PAT Protocol क्या होता है और कैसे काम करता है इसको भी अच्छे से समझा।

Related Difference 

Difference Between Distance Vector Routing and Link State Routing in Hindi

Difference Between OSPF and BGP in Hindi

Difference Between Fast Ethernet and Gigabit Ethernet in Hindi

Difference Between Star and Ring Topology in Hindi

Difference Between SAN and NAS in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here