Internal और External fragmentation में क्या अंतर है?

इस पोस्ट में हम Difference Between Internal and External fragmentation in Hindi में जानेंगे की Internal और External fragmentation में क्या अंतर है?

Internal और External fragmentation में क्या अंतर है?Internal और External fragmentation में क्या अंतर है?

जब भी किसी प्रोसेस को फिजिकल मेमोरी ब्लॉक से लोड या हटाया जाता है तो यह मेमोरी स्पेस में एक छोटा सा होल बनाता है जिसे फ्रेगमेंट कहा जाता है। फ्रेगमेंट के कारण सिस्टम Contiguous memory space को एक Process  में Allocate करने में विफल रहता है भले ही इसमें मेमोरी का रेक्वेस्टेड Amount हो लेकिन non-contiguous manner से।

Fragmentation को आगे दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है Internal और External fragmentation और यह दोनों ही  सिस्टम की डेटा एक्सेसिंग गति को प्रभावित करते

अगर दोनों के मुख्य अंतर की बात करें तो यह है की Internal Fragmentation तब होता है जब fixed sized memory blocks  प्रक्रिया के आकार के बारे में बिना प्रक्रिया के लिए आवंटित किए जाते हैं और External fragmentation तब होता है जब प्रोसेस को डायनामिक रूप से मेमोरी Allocate की जाती है।

Internal fragmentation और External fragmentation में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की Internal और External fragmentation किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Internal और External fragmentation के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

इसके आलावा भी Internal और External fragmentation में कुछ महत्वपूर्ण अंतर है जिनको अब हम Differences Table के माध्यम से नीचे समझनेंगे।

S.NO INTERNAL FRAGMENTATION EXTERNAL FRAGMENTATION
1. Internal fragmentation में fixed-sized memory प्रोसेस के लिए नियुक्त वर्ग माप को ब्लॉक करता है। External fragmentation में, variable-size के मेमोरी ब्लॉक वर्ग माप को विधि के लिए नियुक्त किया जाता है।
2. Internal fragmentation तब होता है जब Method या Process मेमोरी से बड़ी होती है। External fragmentation तब होता है जब Method या Process को हटा दिया जाता है।
3. Internal fragmentation का समाधान सबसे फिट ब्लॉक है। External fragmentationका सॉलूशन is compaction, paging और  segmentation हैं।
4. Internal fragmentation तब होता है जब Memory को निश्चित आकार के पार्टीशन में विभाजित किया जाता है। External fragmentation तब होता है जब Memory को variable size partitions में विभाजित होती है।

Conclusion

Internal fragmentation की समस्या को कम किया जा सकता है लेकिन इसे पूरी तरह से समाप्त नहीं किया जा सकता है। पेजिंग और सेगमेंटेशन external fragmentation के कारण मुक्त किए गए स्थान का उपयोग करने में मदद करता है, जिससे प्रक्रिया को non-contiguous manner  से मेमोरी पर कब्जा करने की अनुमति मिलती है।

Related Differences:

Cold Booting और Warm Booting में क्या अंतर है?

File और Folder में क्या अंतर है?

DOS और Windows में क्या अंतर है?

Multiprogramming और Multitasking में क्या अंतर है?

CD और DVD में क्या अंतर है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here