Difference Between Star and Mesh Topology in Hindi

आज के इस पोस्ट में हम Difference Between Star and Mesh Topology in Hindi में जानेंगे की Star और Mesh Topology के बीच में क्या अंतर होता हैं?

Difference Between Star and Mesh Topology in HindiDifference Between Star and Mesh Topology in Hindi

स्टार और मेष टोपोलॉजी दोनों ही कंप्यूटर नेटवर्क में इस्तेमाल की जाने वाली टोपोलॉजी है। हालांकि, ये टोपोलॉजी मुख्य रूप से जुड़े उपकरणों की फिजिकल और लॉजिकल व्यवस्था में भिन्न हैं। अगर स्टार और मेष टोपोलॉजी के मुख्य अंतर की बात की जाये तो वह कुछ इस प्रकार हैं।

स्टार टोपोलॉजी में एक सेंट्रल डिवाइस से सारी डिवाइस कनेक्ट होती है जिसे हब के रूप में जाना जाता है। दूसरी ओर, मेष टोपोलॉजी प्रत्येक डिवाइस को पॉइंट-टू-पॉइंट लिंक के साथ दूसरे डिवाइस से कनेक्ट किया है।

आमतौर पर स्टार टोपोलॉजी का इस्तेमाल लोकल एरिया नेटवर्क में किया जाता है जबकि Mesh टोपोलॉजी का इस्तेमाल वाइड एरिया नेटवर्क में किया जाता है। जहां स्टार टोपोलॉजी पीयर-टू-पीयर ट्रांसमिशन के तहत आती है और वही मेष टोपोलॉजी प्राइमरी-सेकेंडरी ट्रांसमिशन के रूप में काम करती है।

इसके आलावा भी स्टार और मेष टोपोलॉजी में कुछ महत्त्वपूर्ण अंतर पाए जाते है जिनको हम Difference Table के माध्यम से नीचे जानेंगे लेकिन उससे पहले हम स्टार और मेष टोपोलॉजी किसे कहते है इसको और अच्छे से समझ लेते है।

What is Star Topology in Hindi-स्टार टोपोलॉजी किसे कहते है?

स्टार टोपोलॉजी लोकल एरिया नेटवर्क में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली टोपोलॉजी है।  इस टोपोलॉजी में नेटवर्क की सारी डिवाइस किसी एक सेंट्रल डिवाइस हब, स्विच, राऊटर से कनेक्ट होती है। इसमें साड़ी डिवाइस एक दूसरे से एक डेडिकेटेड लिंक के माध्यम से जुडी होती है  और उसी लिंक के माध्यम से इनफार्मेशन नोड्स से नोड्स तक ट्रेवल होती है।

Advantages of the Star Topology

  • यह अत्यधिक संख्या में नोड्स से पैकेट के हस्तांतरण को कम करता है।
  • नोड्स को एक दूसरे से स्वाभाविक रूप से अलग किया जाता है।
  • सेंट्रल हब में डिवाइस को आसानी से कनेक्ट और रिमूव कर सकते हो।
  • इस टोपोलॉजी को इंसटाल और कॉन्फ़िगर करना काफी आसान है।
  • स्टार टोपोलॉजी में फॉल्टी डिवाइस की पहचान करना काफी आसान है।

Disadvantages of the Star Topology

  • सारे नेटवर्क का कामकाज केंद्रीय हब य स्विच पर निर्भर करता है।
  •  केंद्रीय हब य स्विच  में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर सारा नेटवर्क डाउन हो जाता है ।
  • नेटवर्क की स्केलेबिलिटी केंद्रीय हब य स्विच की क्षमता पर निर्भर करती है।

What is Mesh Topology in Hindi- मेष टोपोलॉजी किसे कहते है?

मेष टोपोलॉजी एक ऐसी नेटवर्क टोपोलॉजी है जिसमें नोड्स एक दूसरे से पूरी तरह से डेडिकेटेड लिंक के माध्यम से जुड़े होते हैं जिसमें इनफार्मेशन नोड्स से नोड्स तक ट्रांसमिट होती है। मेष टोपोलॉजी का इस्तेमाल वाइड एरिया नेटवर्क में किया जाता है।

मेष टोपोलॉजी में twisted pair, coaxial और optical fibre cable का इस्तेमाल किया जाता है। इस टोपोलॉजी में ट्रांसमिट होने वाले पैकेट को किसी भी प्रकार के सोर्स और डेस्टिनेशन के एड्रेस की आवश्यकता नहीं होती क्योकि सारे नोड्स एक दूसरे से डिरेक्टली कनेक्ट होते है।

Advantages of mesh topology:

  • प्रत्येक कनेक्शन अपना डेटा लोड ले जा सकता है
  • यह Reliable है
  • इसमें किसी भी फाल्ट का आसानी से निदान किया जाता है
  • सुरक्षा और गोपनीयता प्रदान करता है

Disadvantages of mesh topology:

  • कनेक्टिविटी अधिक होने पर इंस्टॉलेशन और कॉन्फ़िगरेशन मुश्किल है।
  • केबल बिछाने की लागत अधिक होती है।
  • इसमें बल्क वायरिंग की आवश्यकता होती है।

Star Topology और Mesh Topology में क्या अंतर है?

अभी तक ऊपर हमने जाना की Star Topology और Mesh Topology किसे कहते है अगर आपने ऊपर दी गयी सारी चीजे ध्यान से पढ़ी है तो आपको Star Topology और Mesh Topology के बीच क्या अंतर है इसके बारे में पता चल गया होगा।

अगर आपको अब भी Star Topology और Mesh Topology क्या होता है और इसमें क्या अंतर है इसको समझने में में कोई Confusion है तो अब हम आपको इनके बीच के कुछ महत्वपूर्ण अंतर नीचे बताने जा रहे है।

S.NO STAR TOPOLOGY MESH TOPOLOGY
1. स्टार टोपोलॉजी में सभी डिवाइस एक केंद्रीय हब या राउटर से जुड़े होते हैं। मेश टोपोलॉजी में, नोड्स पूरी तरह से डेडिक्टेड लिंक के माध्यम से एक दूसरे से कनेक्ट होते हैं।
2. स्टार टोपोलॉजी की लागत कम है। मेश टोपोलॉजी काफी महँगी होती है।
3. स्टार टोपोलॉजी की जटिलता काफी सरल है। Mesh Topology बहुत ही कॉम्लेक्स होती है।
4. स्टार टोपोलॉजी में, इनफार्मेशन केंद्रीय हब या राउटर से सभी नोड्स तक ट्रांसमिट की जाती है। Mesh Topology में इनफार्मेशन नोड्स से नोड्स तक ट्रेवल करती है।
5. स्टार टोपोलॉजी बहुत अच्छा एक्स्टेंसिबल है। यह  टोपोलॉजी खराब एक्स्टेंसिबल है।
6. स्टार टोपोलॉजी में, कनेक्शन के लिए Twisted Paired Cable का उपयोग किया जाता है। Mesh टोपोलॉजी में Twisted pair cable, coaxial cable और optical fiber cable केबल का उपयोग किया जाता है।
7. लोकल एरिया नेटवर्कमें स्टार टोपोलॉजी का उपयोग किया जाता है क्योंकिइसका सेटअप आसान है। Mesh Topology का उपयोग वाइड एरिया नेटवर्क में किया जाता है।

Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Difference Between Star and Mesh Topology in Hindi की Star और Mesh Topology के बीच में क्या अंतर होता हैं और साथ में हमने जाना की Star और Mesh Topology किसे कहते है।

स्टार टोपोलॉजी को सेटअप करना काफी आसान और सस्ता है जबकि Mesh Topology को सेटअप करना कठिन है यह एक अच्छा विकल्प है जब डेटा ट्रांसमिशन को सिक्योरिटी के साथ हाई स्पीड में ट्रांसफर करना हो है।

Related Differences:

Difference Between Hub and Switch in Hindi.

Difference Between Switch and Bridge in Hindi.

Difference Between UTP and STP Cables in Hindi.

Difference Between Star and Ring Topology in Hindi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here